Connect with us

उत्तराखण्ड

बेलड़ा ग्राम प्रधान व अधिकारियों समेत दस लोगों पर मुकदमा दर्ज, ये है पूरा मामला

रुड़की के बेलड़ा ग्राम प्रधान सचिन कुमार और मेहवड खुर्द जिला पंचायत सीट से उनकी रिश्तेदार जिला पंचायत सदस्य सपना चौधरी समेत लगभग दस लोगों के खिलाफ फर्जी दस्तावेज तैयार करने के मामले में मुकदमा दर्ज किया गया है।

ग्राम प्रधान व अधिकारियों समेत दस लोगों पर मुकदमा दर्ज
रुड़की के बेलड़ा ग्राम प्रधान सचिन कुमार और मेहवड खुर्द जिला पंचायत सीट से उनकी रिश्तेदार जिला पंचायत सदस्य सपना चौधरी समेत लगभग दस लोगों के खिलाफ सीजेएम कोर्ट के आदेश पर सिविल लाइन कोतवाली पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है।

फर्जी दस्तावेज तैयार करने के मामले में मुकदमा दर्ज
बता दें कि सचिन और उनकी साली सपना चौधरी पर पंचायत चुनाव के दौरान फर्जी दस्तावेज तैयार कर नामांकन पत्र में तथ्य छुपाकर अधिकारियों को भ्रमित करने का गंभीर आरोप लगा है। रुड़की निवासी अधिवक्ता संजीव वर्मा ने जानकारी दी कि सपना चौधरी ने अपने नामांकन में बेलड़ा गांव के दस्तावेज लगाए थे जिसमें जो राशन कार्ड लगा है वो आज तक भी ऑनलाइन दर्ज नहीं है।

फर्जी दस्तावेज बनाने में अधिकारी भी शामिल
बताया गया है कि कुछ प्रमाण पत्र आनन-फानन में फर्जी तरीके से तैयार किए गए। जिसमें कुछ कर्मचारी भी शामिल रहे हैं। फर्जी मूल निवास प्रमाण पत्र लगाया गया। एडवोकेट संजीव वर्मा ने बताया कि सचिन कुमार ने भी तथ्यों को छिपाकर झूठे शपथपत्र देकर अधिकारियों को गुमराह किया था।

अधिकारियों और कर्मचारियों को गुमराह करते हुए किया गबन
सचिन ने चुनाव जीतने के बाद कुछ अधिकारियों और कर्मचारियों को गुमराह करते हुए गबन किया। जिसकी जांच चार अप्रैल 2022 को पूरी हुई इस जांच में मस्टरौल में मजदूरों की संख्या अधिक दर्शाई गई थी। जिसके चलते ग्राम प्रधान को 25,844 की धनराशि सरकारी कोष में जमा करानी पड़ी थी।

यह भी पढ़ें -  प्रदेश में आज भी मौसम खराब रहने के आसार, इन पांच जिलों के लिए जारी किया अलर्ट

जबकि उन पर लगा एक-एक हजार रुपए का जुर्माना आज तक भी जमा नहीं कराया गया है। संजीव वर्मा एडवोकेट ने बताया की सचिन कुमार ने अपना और अपनी साली का नामांकन फर्जी तरीके से कराया था। जिसकी उन्हें जल्द ही सजा भी मिलेगी।

Ad Ad Ad Ad
Ad

More in उत्तराखण्ड

Trending News