प्रधानमंत्री ऋण योजना के नाम पर ठग लिए 80 लाख रुपये,आरोपी गिरफ्तार, कई कॉल सेंटर सील

ख़बर शेयर करें

देहरादून। विदेशी नागरिकों से ठगी करने वाले फर्जी अंतरराष्ट्रीय कॉल सेंटर में बुधवार को उत्तराखंड पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स ने छापामारी कर दो फर्जी कॉल सेंटर पकड़ लिए हैं। इन कॉल सेंटर से प्रधानमंत्री ऋण योजना समेत अन्य लुभावनी योजनाओं के नाम पर उत्तराखंड समेत देश के विभिन्न राज्यों में ठगी की जा रही थी। कॉल सेंटर से तीन युवकों और दो युवतियों को भी गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस के मुताबिक तीनों युवक उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं वही एक युवक कुछ युवतियों के साथ फरार होने में सफल रहा।बताया जा रहा है कि दोनों काल सेंटर पिछले कई माह से संचालित किए जा रहे थे, आरोपित अब तक हजारों व्यक्तियों से 70 से 80 लाख रुपए ठग चुके हैं,

एसटीएफ के एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि शहर में प्रधानमंत्री ऋण योजना के नाम पर आधार कार्ड से ऋण दिलाने और ब्याज में 50% तक की छूट का झांसा देकर ठगी की जा रही है। इसके अलावा मोबाइल टावर लगवाने और विभिन्न ऋण योजनाओं का लाभ दिलाने के नाम पर भी धोखाधड़ी हो रही है। पता लगाने के लिए क्षेत्राधिकारी साइबर क्राइम अंकुश मिश्रा के नेतृत्व में एसटीएफ और साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन की संयुक्त टीम का गठन किया गया।

टीम की जांच में शिकायतों की पुष्टि होने के साथ पता चला कि शहर में दो ऐसे कॉल सेंटर संचालित हो रहे हैं, जिनके माध्यम से ठगी की जा रही है दोनों स्थानों पर छापेमारी कर 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। एक कॉल सेंटर अनुराग चौक के पास चल रहा था, यहां से दीपक राज शर्मा विकास उर्फ राम भजन निवासी गण सुल्तानपुर उत्तर प्रदेश को गिरफ्तार किया गया है। अन्य आरोपित धामपुर उत्तर प्रदेश निवासी रोहित भागने में कामयाब रहा। इसके अलावा कॉल सेंटर में करीब एक दर्जन युवतियां थी, जो टीम के पहुंचने से पहले ही सामान छोड़कर भाग गई। टीम ने मौके से कई डेस्कटॉप, लैपटॉप, दर्जनों सिम कार्ड, मोबाइल फोन हजारों व्यक्तियों के मोबाइल नंबर की सूची व दस्तावेज बरामद किए हैं।

यह भी पढ़ें -  इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की छापेमारी से उड़ी इन लोगो की नींद

दूसरा फर्जी कॉल सेंटर मेहूवाला के वन विहार में एक मकान पर चल रहा था यहां से दो युवतियों समेत तीन को गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों की पहचान ऋषि पाल निवासी धामपुर उत्तर प्रदेश आफरीन उर्फ अलवीरा खान निवासी वन विहार मेहूवाला और समायरा उर्फ इकरा परवीन निवासी मुस्लिम कॉलोनी के रूप में हुई है।पुलिस ठगी करने वालों पर सख्ती से करवाई करने के लिए योजना बना रही है।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.