एक ऐसे शिक्षक जो समाज और देश दोनों के लिए है मिसाल

ख़बर शेयर करें

दन्या। अधिकांश शिक्षक इस समय छुट्टीयां बिताने अपने घरों को गए है। परन्तु एक ऐसा शिक्षक जिसे अपने विद्यालय के बच्चों से इतना लगाव है कि उनके भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए लगातार छुट्टीयो मे भी अपने विद्यालय जाकर रोज नई नई एक्टिविटीज़ कराते रहते है इसी क्रम मे विगत तीन दिनों से राजकीय जूनियर हाई स्कूल बागपाली दन्या अल्मोड़ा में चल रही सेना भर्ती तैयारी का समापन हो गया। कार्यक्रम के मुख्य आयोजक शिक्षक योगेन्द्र रावत के प्रयासों से सफल हुए इस कार्यक्रम में भारतीय सेना से अवकाश प्राप्त प्रशिक्षकों ने युवाओं को इस सम्बन्ध में जहां एक ओर टिप्स दिए वहीं दूसरी ओर शारीरिक क्षमता प्रदर्शन में सुधार के लिए आवश्यक अभ्यास सिखाये।

प्रशिक्षक प्रकाश मिश्रा ने बताया कि वे दो साल से सैकड़ों युवाओं को निःशुल्क सेना भर्ती का प्रशिक्षण देते आ रहे हैं। इसलिए वे शिक्षक योगेंद्र रावत के आग्रह पर आज यहाँ प्रशिक्षण देने पहुँचे हैं। प्रशिक्षक गोपाल नेगी ने बताया कि पहाड़ के युवाओं में सेना में जाने के प्रति जोश पूरे देश में अद्वितीय है।

प्रशिक्षक मूलचन्द के अनुसार कार्यक्रम में बेटियों के भाग लेने और पूरे तीन दिन अभ्यास की बारीकियों को सीखने में उनकी ललक सराहनीय रही। प्रशिक्षक दीपक ने दौड़ एवं लम्बी कूद एवं अन्य प्रशिक्षण इवेंट में श्रेष्ठता के साथ प्रदर्शन को प्राप्त करने के टिप्स देते हुए कहा कि संघर्ष के बाद जीत पक्की होती है। अतः अभ्यास के संघर्ष से पीछे नहीं हटना चाहिये। प्रशिक्षक टीम के साथ आये समन्वयक हर्ष ने अभिभावकों को अपने बच्चों के प्रति सहयोगी बने रहने की अपील की। एस एम सी अध्यक्ष महेश राम ने शिक्षक योगेन्द्र रावत द्वारा किये कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि हमारे बच्चों के लिए इतना सुनहरा अवसर पैदा करने के लिए पूरा समाज उनका आभारी है।

यह भी पढ़ें -  नानकमत्ता पुलिस ने 04.50 ग्राम स्मैक, अवैध तमंचे के साथ 02 व्यक्तियों को किया गिरफ्तार, 6 माह से फरार 01 वांछित भी गिरफ्तार

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सामाजिक कार्यकर्ता गोविन्द गोपाल ने कहा कि शिक्षक योगेद्र के क्षमता व लगन को देखते क्षेत्र में स्थाई आवासीय सेना भर्ती तैयारी कार्यक्रम भी आयोजित किये जाने की दिशा में काम करने से क्षेत्र के युवाओं की बड़ी सहायता होगी। उन्होंने कहा कि ये प्रदेश में इस तरह का कार्यक्रम अवकाश के समय एक अध्यापक द्वारा अपने निजी खर्चे से आयोजित करना अत्यंत सराहनीय है।

तीन दिन चले इस कार्यक्रम में सेना भर्ती की तैयारी के साथ पुलिस भर्ती हेतु लड़कियों की दौड़, शटल रेस, बॉल थ्रो, रस्सी कूद, लम्बी कूद आदि एवं लड़कों की दौड़, लंबी कूद, विम, चिनप एवं सेना हेतु लड़कियों व लड़कों की दौड़,लम्बी कूद, विम, चिन-अप आदि का मानकों के आधार पर प्रशिक्षण दिया गया। उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले लड़कियों व लड़कों को पुरस्कृत भी किया गया।

कार्यक्रम के सफल आयोजन में अभियन्ता मनोज पांडे ने विशेष भूमिका निभाई एवं विद्यालय प्रबंधन समिति की दीपा देवी, गीता देवी, अभिभावक सुंदर राम, पूरन राम, प्रहलाद , ग्राम प्रधान भीम राम एवं आस- पास के दर्जनों ग्रामीणों ने भी भाग लिया। कार्यक्रम के अंत में शिक्षक योगेंद रावत ने सभी सहयोगियों एवं प्रतिभाग करने वाले युवक एवं युवातियों का आभार व्यक्त किया।

संवादाता – खजान पाण्डेय