नैनीताल बैंक की 100वीं वार्षिक साधारण सभा में वित्तीय वर्ष 2021-22 का लेखा – जोखा अनुमोदित

ख़बर शेयर करें

नैनीताल। गुरुवार को नैनीताल बैंक की 100वीं वार्षिक साधारण सभा बैंक के प्रधान कार्यालय में वीडियो कोन्फ्रेंस माध्यम से सम्पन्न हुई। इस वार्षिक साधारण सभा में निखिल मोहन, प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं बैंक के अन्य निदेशक बिनीता साह, संजय मुदलियार, मनोज शर्मा, यू॰ सी॰ नाहटा, रविन्द्र सिंह नेगी एवं नीलम दामोधरण वीडियो कोन्फ्रेंस के माध्यम से सम्मिलित हुए।

वार्षिक साधारण सभा में उपस्थित अंशधारकों को संबोधित करते हुए बैंक के अध्यक्ष एन॰ के॰ चारी नें वित्तीय वर्ष 2021-22 में घटित अंतराष्ट्रीय एवं राष्ट्रीय घटनाओं का उल्लेख करते हुए बैंक के क्रिया कलापों का लेखा जोखा प्रस्तुत किया। उन्होने अपने सम्बोधन में बताया कि बैंक का व्यवसाय 31 मार्च, 2022 को समाप्त वित्तीय वर्ष के अंत में बढ़कर 11,698 करोड़ पहुँच गया जिसमें कुल जमा राशियाँ 7,486 करोड़ एवं ऋण राशियाँ 4,212 करोड़ शामिल है। कुल जमा राशियों में कम लागत की जमा राशियाँ लगभग 41% रहीं जो कि एक उल्लेखनीय उपलब्धि है। गत वित्त वर्ष के अंत में बैंक का ऋण-जमा अनुपात बढ़कर 56% से अधिक हो गया तथा बैंक नें इस वर्ष में रु॰ 28.93 करोड़ का शुद्ध लाभ अर्जित किया जो कि पिछले वर्ष के शुद्ध लाभ रु॰ 1.26 करोड़ के सापेक्ष एक उल्लेखनीय वृद्धि है। बैंक का प्रति कर्मचारी व्यवसाय बढ़कर रुपये 13.58 करोड़ के स्तर तक पहुँच गया। उल्लेखनीय है कि बैंक नें वित्त वर्ष के दौरान 5 नयी शाखाएँ खोली तथा शाखाओं की कुल संख्या बढ़कर वित्त वर्ष के अंत में 165 हो गयी। एन॰ के॰ चारी नें अपने सम्बोधन में बताया कि वर्ष के दौरान बैंक नें अपने पुराने सी॰ बी॰ एस॰ प्लैटफ़ार्म को सफलतापूर्वक बदलकर नए अत्याधुनिक सी॰ बी॰ एस॰ फिनेकल 10x प्लैटफ़ार्म पर स्थापित कर लिया तथा बैंक अब अपने ग्राहकों को नवीनतम सेवाएँ उपलब्ध करा रहा है।इस अवसर पर बैंक नें अपने समस्त अंशधारियों को 5% की दर से लाभांश देने का साधारण सभा में अनुमोदन भी किया। सभा के अंत में वित्तीय वर्ष 2021-22 से संबन्धित वार्षिक वित्तीय विवरणियाँ भी अनुमोदित की गईं। एन॰ के॰ चारी नें इस अवसर पर समस्त अंशधारकों, हित्तधारकों, लेखा परीक्षकों, भारतीय रिजर्व बैंक की लेखा परीक्षक टीम, केंद्र एवं राज्य सरकारों, स्थानीय प्रशासन, जिला अधिकारियों, बैंक ऑफ बड़ोदा के प्रबंध निदेक्षक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी तथा कार्यकारी निर्देशकों, नैनीताल बैंक के कर्मचारी एवं अधिकारी संगठनों, बैंक ऑफ बड़ोदा एवं नैनीताल बैंक के निदेशक मंडलों तथा बैंक के समस्त ग्राहकों का धन्यवाद व्यापित किया। वार्षिक साधारण सभा की समाप्ति के उपरांत बैंक के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी निखिल मोहन नें बैंक परिसर में एक प्रैस वार्ता का आयोजन भी किया तथा गत वित्तीय वर्ष में किए गए कार्यकलापों के अतिरिक्त बैंक की भावी योजनाओं पर प्रकाश डाला।

यह भी पढ़ें -  डीआईजी कुमायूँ ने स्पा सेंटर पर कराई ताबडतोड छापेमारी…,

उन्होने बताया कि बैंक के व्यवसाय मे वृद्धि हेतु बैंक द्वारा “नैनी चैम्प”, “नैनी सैलरी”, “नैनी उत्कृष्ट”, नामक आकर्षक बचत योजनाएँ प्रारम्भ की गयी है। इसके अतिरिक्त ग्रामीण भंडारण के क्षेत्र में आकर्षक योजना बनाई गयी है। बैंक नें अपने व्यक्तिगत ऋण उत्पादों कार ऋण को 8.65%, भवन ऋण को 7.95% एवं गोल्ड लोन को 8.15% की न्यूनतम ब्याज दरों पर ऋण उपलब्ध कराना प्रारम्भ कर दिया है जिसके उल्लेखनीय परिणाम आने प्रारम्भ हो गए है। बैंक चालू वर्ष के दौरान 10 नयी शाखाएँ खोलने हेतु प्रयासरत है। बैंक अपने बैंकिंग उत्पादों के अतिरिक्त न्यूनतम दरों पर स्वास्थ्य बीमा एवं क्रेडिट कार्ड सरीखे उत्पादों का वितरण भी कर रहा है। उन्होने पत्रकार वार्ता में भरोसा जताया कि बैंक अपने सभी कर्मचरियों एवं अधिकारियों की टीम भावना से वित्त वर्ष 2022-23 के समस्त व्यावसायिक लक्ष्य प्राप्त कर लेगा। इस अवसर पर बैंक के मुख्य परिचालन अधिकारी अरुण कुमार अग्रवाल, सत्य प्रकाश- सहायक महाप्रबंधक और बैंक के अनेक कार्यपालक, अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।