Connect with us

उत्तराखण्ड

पूर्व दर्जा राज्यमंत्री हरीश पनेरू के नेतृत्व में अशोक लीलैंड कंपनी के कर्मचारियो ने श्रम आयुक्त को सौंपा ज्ञापन

संवाददाता शंकर फुलारा

हल्द्वानी। उत्तराखंड ओपन यूनिवर्सिटी और अशोक लीलैंड कंपनी द्वारा दिये गए डिप्लोमा की मान्यता और स्थायी जॉब की मांग को लेकर पिछले 72 दिनों से बुधपार्क में अनिश्चित कालीन धरने में बैठे है।

आज छात्रों का एक दल पूर्व दर्जा मंत्री हरीश पनेरु के नेतृत्व में सहायक श्रम विभाग ऊधम सिंह नगर से ली गयी RTI रिपोर्ट लेकर श्रम विभाग हल्द्वानी में श्रम आयुक्त से मिले। और उनको यह अवगत कराया कि सिडकुल रुदपुर के अंर्तगत बड़ी बड़ी कंपनियों द्वारा पंजीकरण नियमों का पालन कर उत्तराखंड के युवाओ का शोषण कर रहे है।

जिसमें अशोक लीलैंड कंपनी द्वारा लायम कॉन्ट्रेक्ट के साथ मिलकर बहुत बडा फर्जीवाडा किया गया है। जिस कार्य के लिए जो फर्म पंजीकृत है उस कार्य को न करवा के मनमाने तरीके से अन्य कार्यो को करवा कर सरकार की आंखों में धूल झोंक रहे है।

इसलिए अशोक लीलैंड कंपनी में पंजीकृत फर्मों की जांच करवा के दोषियों के खिलाफ 420 का मुकदमा पंजीकृत करवाते हुए अशोक लीलैंड और ओपन यूनिवर्सिटी के खिलाफ कार्यवाही की बात कही गयी।

जिसमें श्रम आयुक्त हल्द्वानी द्वारा फोन कर सहायक श्रम आयुक्त रुदपुर को निर्देशित कर जांच करके कार्यवाही करने का आदेश दिया गया।

ज्ञापन देने वालो में
राकेश पांडे, भुबन भट्ट, पीयूष जोशी, राहुल पंत, भरत नेगी, प्रहलाद सिंह, अमन, दीपक, इंदर, निशा, हेम, दीप आदि थे।

यह भी पढ़ें -  डिलीवरी एप से मंगाई आइसक्रीम , निकला कनखजूरा, कंपनी पर होगा मुकदमा

More in उत्तराखण्ड

Trending News