Connect with us

उत्तराखण्ड

ट्रेन के आगे कूदकर नाबालिग भाई-बहन ने दे दी जान, मचा कोहराम

हरिद्वार। नाबालिग भाई-बहन ने देर सन्दिग्ध परिस्थितियों में ट्रेन के आगे कूद कर जान दे दी। शुरुआती जांच में सामने आया है कि मां ने बेटी को घर के काम के लिए बोला था। जिसके बाद दोनों घर से निकल गए और ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर ली। हालांकि, यह कहानी पुलिस के गले नहीं उतर रही है।ज्वालापुर क्षेत्र में लालपुल पर मंगलवार देर रात रेलवे ट्रैक पर दो शव मिलने से सनसनी फैल गई। पुलिस कंट्रोल रूम की सूचना पर ज्वालापुर कोतवाली के एसएसआई राजेश बिष्ट, रात्रि अधिकारी उपनिरीक्षक प्रदीप कुमार मय फ़ोर्स के मौक़े पर पहुंचे। शव की शिनाख्त समीर उम्र 16 वर्ष पुत्र फ़ारुक व अलीसबा उम्र 14 वर्ष पुत्री फ़ारुक निवासीगण मोहल्ला बाबर कॉलोनी पांवधोई ज्वालापुर हरिद्वार के रूप में की गई।पुलिस दोनों भाई-बहन के शव पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवाए।

समीर व अलीसबा के भाई साकिब व साजिद ने बताया रात के समय उनकी मां ने छोटी बहन को घर के बर्तन व सफाई का काम करने के लिए कहा था। इस बात से वह नाराज होकर निकल गई। जबकि उसका भाई भी पीछे-पीछे निकल गया। बाद में बड़े भाई ने समीर के मोबाइल पर फोन किया तो उसने खुदकुशी करने की बात कही। जिसके बाद से स्वजन उनकी तलाश कर रहे थे

ज्वालापुर कोतवाली के एसएसआई राजेश बिष्ट ने बताया कि दोनों के पिताजी पेशे से ड्राइवर हैं। घर में मामूली कहासुनी की बात सामने आई है। हर एंगल से मामले की जांच की जा रही है। शवों का पंचनामा कर आवश्यक विधिक कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें -  मेयर के आरक्षण में होगा बदलाव, ओबीसी के साथ ही महिलाओं के लिए भी 33 % सीटें आरक्षित
Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखण्ड

Trending News