Connect with us

उत्तराखण्ड

जेई पेपर लीक मामले में कोचिंग संचालक गिरफ्तार, जानिये पूरी खबर

रुद्रपुर। पूरे प्रदेश भर में पेपर लीक के तार जुड़े है। आये दिन अलग-अलग जिलों से गिरफ्तारियां हो रही है। अब एसआइटी ने पेपर लीक मामले में फरार चल रहे 50 हजार के इनामी पूर्व भाजपा नेता संजय धारीवाल के एक और रिश्तेदार को गिरफ्तार किया है। आरोपी रुद्रपुर ऊधमसिंहनगर जिले में मिशन आइएएस कोचिंग एकेडमी चलाता था। जिसके बाद कुछ और कोचिंग सेंटर एसआइटी के राडार पर हैं। जल्द ही कई और गिरफ्तारियां हो सकती है।

गौरतलब है कि विगत जनवरी महीने में राज्य लोक सेवा आयोग ने पटवारी और साल 2022 के अप्रैल व मई माह में हुई जेई-एई भर्ती के पेपर लीक कांड की जांच कर रही। पेपर लीक में शामिल आरोपियों को एसआइटी लगातार पकड़ रही है।

बीते शुक्रवार को एक और खुलासा हुआ जब इस मामले मं कोचिंग सेन्टर संचालकों के गठजोड़ सामने आया।एसआइटी की जांच में पूर्व भाजपा नेता संजय धारीवाल के तार रुद्रपुर ऊधमसिंहनगर में मिशन आइएएस कोचिंग एकेडमी के नाम से कोचिंग सेंटर चलाने वाले उसके रिश्तेदार दीपेंद्र पंवार निवासी मुकंदपुर थाना गदरपुर से जुड़े सामने आए थे।

पूछताछ करने के बाद एसआइटी ने उसे गिरफ्तार कर लिया गया। संजय धारीवाल के कहने पर कुछ अभ्यर्थियों को तैयार किया और उनसे लाखों रुपये की धनराशि अपने परिचितों के खातों में मंगवा कर जेई भर्ती परीक्षा के प्रश्न पत्र बेचा था। आरोपी को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें -  टनकपुर-बनबसा के पत्रकारों ने मनाया हिंदी पत्रकारिता दिवस,विभिन्न स्थानों पर हुए कार्यक्रम आयोजित
Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखण्ड

Trending News