कांग्रेसियों ने सरकार के खिलाफ भर्ती घोटाले में जमकर विरोध प्रदर्शन कर पुतला फूंका

ख़बर शेयर करें

रूद्रपुर। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आहवान पर जिला एवं महानगर कांग्रेस कमेटी ने भर्ती घोटाले के विरोध में भाजपा सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए पुतला दहन किया और भर्ती घोटाले की सीबीआई जांच की पुरजोर मांग की।

कांग्रेस जिला अध्यक्ष हिमांशु गावा और महानगर अध्यक्ष सीपी शर्मा के नेतृत्व में तमाम कांग्रेसी शुक्रवार को बाटा चौक पर एकत्र हुए। कांग्रेसियों ने भर्ती घोटालों को लेकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन के बीच सरकार का पुतला आग के हवाले किया। इस दौरान महानगर अध्यक्ष सीपी शर्मा ने कहा कि सरकारी नियुक्तियों में एक के बाद एक अनियमिततायें सामने आने से भाजपा का असली चरित्र जग जाहिर हो चुका है। भाजपा के कई नेताओं की मिलीभगत इन घोटालों में सामने आ रही है। भाजपा सरकार युवाओं के साथ छलावा कर रही है। सरकारी नौकरियों पर अपने चहेतों और रिश्तेदारों को नियुक्तियां दी जा रही है।

उन्होंने कहा कि जीरो टॉलरेंस का दावा करने वाली सरकार आकंठ भ्रष्टाचार में डूब चुकी है। एक तरफ प्रदेश के युवा रोजगार के लिए दर दर भटक रहे हैं। पहाड़ से हजारों लोग पलायन करने को मजबूर है लेकिन युवाओं को रोजगार देने के बजाय सरकारी नौकरियों कीं बंदरबांट में लगी है। श्री शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार में यूकेएसएसएससी पेपर लीक, सहकारिता, शिक्षा विभाग, विधानसभा सहित तमाम विभागों में मनचाहे लोगों को भर्ती किए जाने से उत्तराखण्ड का नाम पूरे देश में कलंकित हुआ है। उत्तराखंड सरकार युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ कर रही है। भाजपा सरकार अपने चहेतों को भर्ती से पहले पेपर लीक कर बेरोजगार युवाओं से पैसा कमा रही है, जिससे युवाओं का भविष्य अधर में लटकता जा रहा है। उन्होंने भर्ती घोटाले की सीबीआई जांच की मांग की।

यह भी पढ़ें -  पुलिस चौपाल में पहुंचे आईजी उत्तराखंड

कांग्रेस जिलाध्यक्ष हिमांशु गावा ने कहा प्रदेश के युवाओं के साथ धोखा किया जा रहा है। नौकरियों में भर्ती के लिए 15-15 लाख रुपये में हल किए हुए प्रश्नपत्र बेचकर योग्य बेरोजगारों का भविष्य बर्बाद किया जा रहा है। उत्तराखंड सरकार युवा विरोधी है। उन्होंने आरोप लगाया कि घोटाले में विभागीय मंत्री से लेकर अधिकारी तक शामिल हैं। श्री गावा ने कहा कि चुनाव में दो करोड़ युवाओं को प्रतिवर्ष रोजगार देने की बात करने वाली भाजपा खुलेआम बेरोजगार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। इसकी उच्च सतरीय जांच होनी चाहिए। दोषियों को जेल की सलाखों के पीछे भेजा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि घोटाला खुलते ही मुख्यमंत्री बदल दिया जाता है। ऐसी सरकार को सत्ता में रहने का कोई अधिकार नहीं है। पार्षद मोहन खेड़ा ने कहा कि भर्ती घोटालों से सिद्ध हो गया है कि जीरो टालरेंस सिर्फ आम जनमानस की आंखों में धूल झोंकने जैसा है। भर्ती घोटाला अब इस सरकार को ले डूबेगा। प्रदेश प्रवक्ता सौरभ चिलाना ने कहा कि आज पूरे देश में उत्तराखण्ड भर्ती घोटाला गूंज रहा है। इस सरकार ने भर्तियों में महाघोटाला करके देवभूमि को कलंकित करने का काम किया है। प्रदेश में हुए सभी भर्ती घोटालों की सीबीआई जांच की जानी चाहिए।

इस दौरान कांग्रेस नेता मोहन भारद्वाज, अबरार, बाबू खान, सुशील मण्डल, अमन जौहरी, नंद किशोर गंगवार, प्रकट संधू, सुनील आर्य, बाबू विश्वकर्मा, जीत सिंह, पवन वर्मा, मानस बैरागी, उमा सर्कार, संतोष गुप्ता, पुरुषोत्तम अरोरा, रमेश जोशी समेत तमाम कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *