Connect with us

उत्तराखण्ड

भारत से नेपाल को जोड़ने वाले फोर लाईन हाइवे निर्माण का डीएम ने किया निरिक्षण

केंद्र सरकार का है यह ड्रीम प्रोजेक्ट

रिपोर्ट – विनोद पाल

बनबसा । जिलाधिकारी नवनीत पांडे ने तहसील टनकपुर अंतर्गत बनबसा के जगबुड़ा से नेपाल को NHAI भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा बनाए जा रहे फोरलेन हाईवे का एनएचएआई के अधिकारियों तथा अन्य विभागों के अधिकारियों के साथ निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने यहां एनएचएआई के अधिकारियों को समय सीमा का ध्यान रखते हुए गुणवत्ता पूर्वक कार्य करने के निर्देश दिए । इस दौरान जिलाधिकारी ने निर्माणाधीन फोरलेन हाईवे के कार्यों का जायजा भी लिया तथा परियोजना प्रबंधक से निर्माण के संबंध में जानकारी ली। परियोजना प्रबंधक ने अवगत कराया कि बनबसा से नेपाल सीमा तक फोरलेन सड़क का कार्य सितंबर 2024 तक पूर्ण कर लिया जाएगा इसकी कुल लंबाई 4.2 किलोमीटर है। जिसे बाद में नेपाल की ओर से महाकाली नदी पर बनाए गए 800 मीटर के फोरलेन पुल से जोड़ा जाएगा। इसके साथ ही ड्राइपोर्ट के निर्माण हेतु राइट्स कंपनी द्वारा डीपीआर बनाई जा रही है जिसके बाद कार्यवाही की जाएगी।

इसी क्षेत्र में माननीय मुख्यमंत्री द्वारा सिडकुल बनाने की घोषणा की गई है, जिस संबंध में जिलाधिकारी द्वारा उक्त स्थल का निरीक्षण करते हुए महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र एवं वन विभाग के अधिकारियों से भूमि के संबंध में जानकारी लेते हुए शीघ्र ही वन भूमि हस्तांतरण के प्रस्ताव बनाने के निर्देश देते हुए प्रस्ताव शासन को भेजने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने कहा कि इस फोरलेन हाईवे का मुख्य उद्देश्य दोनों देशों के सूखा बंदरगाह को जोड़कर आर्थिक रूप से निवेश करके दोनों देशों के लोगों को रोजगार देना है। यह केंद्र सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट भी है। एनएचएआई के अधिकारियों ने जिलाधिकारी को बताया कि गुणवत्ता का ध्यान रखते हुए हाईवे को तैयार किया जा रहा है। इसमें कई जगह स्पैन पुल, फ्लाई ओवर और अंडरपास प्रस्तावित हैं,जिनका कार्य गतिमान है। एनएचएआई के अधिकारियों ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि तय समयावधि में हाईवे का कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें -  जगमोहन परगांई को संगीत विषय में मिली पीएचडी उपाधि

भ्रमण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा बनबसा बैराज का भी निरीक्षण किया। इस दौरान उत्तर प्रदेश सिंचाई विभाग के उपखण्ड अधिकारी द्वारा बनबसा बैराज के डाउन स्ट्रीम में बांध टूट जाने से हो रहे भू कटाव की रोकथाम कार्य बाढ़ सुरक्षा के कार्य कराए जाने की अनुमति मांगी गई जिस पर जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी टनकपुर, अधिकारी सिंचाई विभाग के अधिकारियों को शीघ्र ही स्थलीय निरीक्षण कर रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए ताकि बाढ़ सुरक्षा के कार्य प्रारंभ किये जा सकें। इस दौरान जिलाधिकारी ने इमिग्रेशन चैक पोष्ट व कस्टम चौकी का भी निरीक्षण कर जानकारी लेते हुए आवश्यक निर्देश दिए।उन्होंने कस्टम चौकी में बीएसएनएल की संचार सुविधा की समस्या के संबंध में उपजिलाधिकारी को बीएसएनएल के अधिकारियों से वार्ता कर समस्या का समाधान कराने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान उपजिलाधिकारी टनकपुर आकाश जोशी,एनएचएआई के परियोजना प्रबंधक अमित शर्मा,महाप्रबंधक उद्योग केंद्र दीपक मुरारी,सोमनाथ गर्ग,तहसीलदार हर गिरी,उप खण्ड अधिकारी सिंचाई यूपी खण्ड प्रशांत वर्मा, आर के यादव सुप्रीटेंडेंट कस्टम सुधाकर तिवारी,वन क्षेत्राधिकारी जे वर्मा आदि मौजूद थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखण्ड

Trending News