जिलाधिकारी ने रीमा क्षेत्र का भ्रमण कर एनएस कॅार्पोरेशन सॉप स्टोन माइंस का किया औचक निरीक्षण

ख़बर शेयर करें

बागेश्वर। जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने बुधवार को रीमा क्षेत्र भ्रमण दौरान एनएस कॅार्पोरेशन सॉप स्टोन माइंस का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने मानको के अनुसार खनन कार्य करने के साथ ही खदान क्षेत्र के गड्ढों को भी भरने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिन माइंस ऑनर्स को जितना पौधारोपण का लक्ष्य दिया गया है वे भी पूर्ण किए जाए।

जिलाधिकारी ने माइंस प्रबंधक सतीश कुमार से माइनिंग वर्क प्लांन की विस्तृत जानकारी ली। प्रबंधक ने बताया कि एनएस सॉप स्टोन माइंस 21.19 हैक्टेयर में है, माइंस में वर्ममान में 49 श्रमिक कार्यरत है तथा समय-समय पर 22 जेसीबी के माध्यम से कार्य किया जाता है।

उन्होंने बताया माइन नवंबर अंतिम सप्ताह से चालू की गयी है, सभी श्रमिकों के सुरक्षा प्रबंधनों के साथ ही नियमित जांच, आवास की व्यवस्था भी की गयी है। उन्होंने बताया कि गत वर्षो में कोविड की वजह से सॉप स्टोन कंपनी को घाटा उठाना पडा, वर्तमान में यूक्रेन व रूस के युद्ध के माहौल से यूरोपियन देशों में सांप स्टोन का निर्यात नहीं हो पा रहा है, जिससे सांप स्टोन का भण्डारण लंबित है। उन्होंने बताया कि बागेश्वर जनपद का सॉप स्टोन विश्व में सबसे बेहतरीन है, विश्व मार्केट में इसकी पहचान भी है। जिलाधिकारी ने कहा कि सॉप स्टोन को उद्योग के रूप में विकसित किया जाए व जनपद के ब्रांड के रूप में विकसित किए जाने का प्रयास किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि सॉप स्टोन खनन क्षेत्रों में स्वास्थ व शिक्षा की सुविधाएं विकसित की जाएगी। उन्होंने कहा कि उद्यमस्थल रीमा में स्थित पीएचसी में स्वास्थ सुविधाएं और जुटाई जाएंगी, इस हेतु उपकरण व दवाओं आदि जरूरतों का सर्वे कराकर शीघ्र मांग रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिए, ताकि क्षेत्रवासियों के साथ ही खनन श्रमिकों को त्वरित व उचित स्वास्थ सुविधाएं वहीं उपलब्ध हो सकें। निरीक्षण के दौरान खान अधिकारी लेघराज, जिला पंचायत सदस्य पूरन गढिया, लाइजनिंग ऑफिसर अनुप कुमार आदि मौजूद थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
Ad
Ad
यह भी पढ़ें -  बीच सड़क में पलटा मटर से भरा कैंटर, टली बड़ी घटना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *