Connect with us

दिल्ली

मौसी के वहां हुई थी पहली मुलाकात, दोस्ती बदली प्रेम में फिर परिजनों ने लाठी डंडों से पीटकर मार डाला

गौतम बुद्ध नगर जिले के दनकौर के एक गांव में 16 वर्षीय किशोरी से मिलने आए गांव अस्तौली निवासी बीए के छात्र कमल (20) की परिजनों ने लाठी-डंडों से पीटकर हत्या कर दी। कमल के साथ आए दोस्त जितेंद्र की भी गंभीर स्थिति बनी हुई है। इस मामले में किशोरी के परिजनों के साथ ही 10 लोगों के विरुद्ध केस दर्ज कर लिया गया है। साथ ही शोभिन, बॉबी और सुमित को गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि नाबालिग के पिता और परिवार के अन्य सदस्य फरार हैं। वारदात के बाद गांव में व्याप्त तनाव को देखते हुए पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। पोस्टमार्टम के बाद वही बुधवार रात पुलिस की मौजूदगी में युवक का अंतिम संस्कार कर दिया गया। पुलिस के अनुसार कुछ दिन पहले किशोरी अस्तौली निवासी मौसी के यहां गई थी। वहां उसकी मुलाकात कमल से हुई। दोनों के बीच दोस्ती हुई, जो धीरे धीरे प्यार में तब्दील हो गई। जानकारी के अनुसार मंगलवार दोपहर कमल गांव निवासी दोस्त जितेंद्र के साथ प्रेमिका से मिलने उसके गांव आया था।

किशोरी के पिता ने परिवार के लोगों के साथ मौके पर पहुंचकर दोनों को पकड़ लिया। आरोप है कि परिजनों ने लाठी-डंडे से कमल और जितेंद्र की पिटाई शुरू कर दी। दोनों युवक जान बचाने की गुहार लगाते रहे। जिसके बाद भी लोग उन पर हमला करते रहें और बुरी तरह पिटाई के बाद परिजन दोनों युवकों को अधमरी हालत में छोड़कर फरार हो गए। मामले की सूचना मिलते ही कमल के परिजन पीपलका पहुंचे। दोनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां मंगलवार देर रात कमल ने दम तोड़ दिया। वहीं अस्पताल में भर्ती जितेंद्र की हालत गंभीर बनी हुई है। मामले में कमल के चचेरे भाई नरेंद्र ने आरोपी पक्ष के मिन्दर, हर्ष, संजय, सुमित, शोभिन और बॉबी समेत 10 लोगों पर हत्या का आरोप लगाते हुए दनकौर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है। कमल के परिजनों का आरोप है कि किशोरी के अभिभावकों को इस बारे जानकारी थी। आरोप है कि मंगलवार को किशोरी से फोन कराकर परिजनों ने कमल को बुलाया था।

यह भी पढ़ें -  भारी बारिश से जिले में 38 मार्ग बंद, नदियां उफान पर

मौके से कमल और जितेंद्र को गाड़ी में अगवा कर लिया गया। दोनों की बेरहमी से पिटाई कर गांव के पास घायल अवस्था में फेंक दिया गया। आरोप है कि क्षेत्र के कई गांवों में गाड़ी घुमाते हुए दोनों की पिटाई की गई। कमल सात बहनों का इकलौता भाई था। करीब छह वर्ष पहले उसके पिता की मौत हो गई थी। कमल की मौत के बाद परिजनों को रो-रोकर बुरा हाल है। उसकी बहनें और मां बार-बार बेसुध हो जा रही हैं। बहनें रोते हुए कह रही हैं कि रक्षा बंधन पर वह किसे राखी बाधेंग अशोक कुमार, एडीसीपी ग्रेटर नोएडा परिवार के इकलौते बेटे की मौत से पूरे गांव में मातम है। किशोरी से मिलने गए दो दोस्तों की बेरहमी से पिटाई की गई। किशोरी के परिजनों की पिटाई से घायल कमल की मौत हो गई है। मामले में पीड़ित परिवार की शिकायत पर केस दर्ज कर तीन आरोपियों गिरफ्तार किया गया है। फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है।

More in दिल्ली

Trending News