Connect with us

उत्तराखण्ड

गंगोत्री नेशनल पार्क और गर्तांगली के गेट को शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए, इस साल पहुंचे रिकॉर्ड पर्यटक

पर्वतारोहण व ट्रैकिंग के लिए प्रसिद्ध गंगोत्री नेशनल पार्क और गर्तांगली के गेट गुरुवार को शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए। अब अगले वर्ष एक अप्रैल के बाद ही सैलानी पार्क की सैर कर पाएंगे। इस बार पार्क में सैलानियों की संख्या के साथ कमाई का भी नया रिकॉर्ड बना।

इस बार 31,235 सैलानियों ने पार्क की सैर की है, जबकि पार्क को प्रवेश शुल्क के रूप में 61 लाख से अधिक का राजस्व प्राप्त हुआ। जबकि, वर्ष 2022 में 28,500 सैलानियों ने पार्क की सैर की थी। इसके अलावा पार्क क्षेत्र में 20 से अधिक कैमरा ट्रैप लगाए गए हैं, जिससे वन्यजीवों की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है।

पहुंचे रिकॉर्ड सैलानी
गंगोत्री नेशनल पार्क के कनखू बैरियर, भैरवघाटी नेलांग बैरियर और गर्तांगली को जाने वाले लंका पुल बैरियर पर गुरुवार को कार्यक्रम आयोजित हुए। इसके बाद तीनों गेट बंद किए गए। इस बार पार्क के साथ गर्तांगली की सैर को भी बड़ी संख्या में सैलानी पहुंचे। गोमुख और तपोवन क्षेत्र में भी सैलानियों की अच्छी आमद रही। पर्वतारोहण करने वाले विदेशी पर्वतारोहियों की संख्या भी संतोषजनक रही। इस बार 15,472 सैलानियों ने पार्क की सैर की। इनमें 617 विदेशी सैलानी थे।

गंगोत्री नेशनल पार्क में वर्षवार स्थिति
वर्ष – पर्यटक – राजस्व (लाख रुपये में)

2023 – 31 – 235-61.74

2022 – 28 – 560-60.00

2021 – 6 – 540-14.10

2020 – 00 – 00

2019 – 18 – 883-41.26

2018 – 17 – 108-36.34

2017 – 16 – 881-38.30

2016 – 12 – 643-31.41

अधिकारियों ने कही ये बात
यह पहला सीजन था, जब इतनी संख्या में सैलानी गंगोत्री नेशनल पार्क के पर्यटन स्थलों की सैर को पहुंचे। इससे पहले सैलानियों की इतनी आमद कभी नहीं हुई। सैलानियों की संख्या के साथ राजस्व का भी रिकॉर्ड बना है। सैलानियों के लिए पार्क गेट अब एक अप्रैल 2024 को खोले जाएंगे। – प्रताप पंवार, रेंज अधिकारी, गंगोत्री नेशनल पार्क, उत्तरकाशी

यह भी पढ़ें -  अनियंत्रित पिकअप गिरी खाई में , दो की मौत,चार गंभीर रूप से घायल
Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखण्ड

Trending News