गिनी देश में फंसे भारतीयों में हल्द्वानी का सौरभ भी शामिल, परिजनों ने लगाई सुरक्षा की गुहार

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी। पिछले तीन महीने से पश्चिमी अफ्रीका के गिनी देश में भारतीय मर्चेंट नेवी का एक शिप फंसा हुआ है। शिप के 26 क्रू मेम्बरों को गिनी की नेवी ने बंधक बना लिया है। 26 क्रू मेम्बरों में हल्द्वानी के गौलापार निवासी सौरभ स्वार भी शामिल हैं। क्रू में 16 भारतीय, 6 श्रीलंका, फिलीपींस, पोलैंड के एक-एक और दो अन्य अफसर बंधक हैं। मर्चेंट नेवी शिप के सदस्यों पर कच्चा तेल चोरी का आरोप लगाया गया है। इसमें उत्तर प्रदेश के कानपुर के रहने वाले रोशन अरोड़ा भी शामिल हैं। जबकि उत्तराखंड हल्द्वानी के सौरभ स्वार हैं।

सौरभ स्वार की पत्नि शोभा स्वार ने बताया कि बीते दिवस शाम 3:00 बजे आखिरी बार उनसे सौरभ की बात हुई। उन्होंने बताया कि इसके बाद उन्हें नाइजीरिया को हैंडओवर किया जा रहा है। उनके फोन भी जब्त किए जा रहे हैं। जिसके बाद से परिवार वालों का रो रो कर बुरा हाल है। पत्नि शोभा स्वार ने बताया कि उन्होंने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर पूरी जानकारी देते हुए मदद के लिए गुहार लगाई है। और सरकार से निवेदन किया है कि, सरकार जल्द से जल्द कोई ठोस कदम उठाए अगर सरकार कोई ठोस कदम नहीं उठाती है तो उन पर बड़ी मुसीबत आ सकती है। परिवार वालों का कहना है कि अब उनकी कोई खबर भी नहीं मिल पा रही है। जिससे उनकी चिंता और बड़ गई है। इधर कानपुर उत्तर प्रदेश के रोशन अरोड़ा के परिजनों की भी चिंता बढ़ गई है। उन्होंने भारत सरकार से बेटे की वापसी की गुहार लगाई है।

यह भी पढ़ें -  धोखाधड़ी के मामले में फरार चल रहे इनामी बदमाश को पुलिस ने दबोचा

आपको बता दें कि इंडियन नॉर्वेजियन फ्लैगड एमटी हीरोइक इडन को एक्वाटोरियल गिनी नेवल शिप ने 12 अगस्त 2022 को इंटरनेशनल समुद्री रूट से गिरफ्तार किया था। गिरफ्तारी के बाद उन्हें एक्वाटोरियल गिनी नेवल एस्कॉर्ट पर रखा गया। सभी 26 क्रू मेम्बर्स मर्चेंट नेवी शिप के मेम्बर पर कच्चा तेल चोरी करने का इल्जाम लगाया गया है।