कृष्णा अस्पताल के चिकित्सकों पर लापरवाही का आरोप, नवजात बच्ची की गई जान

ख़बर शेयर करें

रुद्रपुर। शहर के कृष्णा अस्पताल के चिकित्सकों की घोर लापरवाही के कारण एक नवजात बच्ची की जान चली गई। अस्पताल में भर्ती बच्ची के सही होने का दावा कर रहे चिकित्सकों पर परिजनों को गुमराह करने का आरोप है।
लापरवाही के कारण आखिरकार आईसीयू में रखी गई बच्ची की जान चली गई। विदित हो कि रूद्रपुर आवास विकास निवासी सद्दाम हुसैन पुत्र मरहूम अब्दुल रजाक ने पुलिस को दी तहरीर में कहा है कि उनकी पत्नी ने कुछ रोज पहले एक बच्ची को जन्म दिया। जन्म के समय बच्ची स्वस्थ थी, प्रसूति विभाग की चिकित्सकों ने उसे अस्वस्थ होने की बात कहकर अस्पताल में भर्ती कराया।

पीड़ित परिवार का कहना है कि बच्चे के स्वास्थ्य परीक्षण के लिये डॉ अतुल चाइल्ड विशेषज्ञ को दिखाया जिसके द्वारा बच्चे को कृष्णा अस्पताल डॉक्टर कॉलोनी में दिखाने को कहा, 4 अगस्त को बच्ची कृष्णा अस्पताल में भर्ती कराई गई जिसके बाद डॉ गौरव अग्रवाल व पारस अग्रवाल द्वारा मासूम बच्ची के इलाज में लापरवाही बरती गई,परिजनों को गुमराह कर उसे मृत अवस्था में बरेली के एक अस्पताल को भेजने की करवाई की गई, आरोप है कि बिना परिजनों की सहमति के बच्ची को रेफर किया गया। आरोप यह भी है कि लाखों का बिल उनके हाथ में थमाया गया। पीड़ित परिवार ने यह भी बताया गया कि कृष्णा अस्पताल से मृत अवस्था में बच्ची लाई गई थी। डॉक्टरों की लापरवाही के कारण ही नवजात की जान गई है। परिजनों ने कृष्ण आसपाल को तत्काल सील करने और लापरवाह डॉक्टरों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज करने की मांग की गई है।

यह भी पढ़ें -  नर्सिंग भर्ती के 1564 पदों पर भर्ती का रास्ता हुआ साफ, पढ़ें ये खास खबर……