लालकुआं में उप जिलाधिकारी के माध्यम से युवकों ने राष्ट्रपति को ,भेजा ज्ञापन

ख़बर शेयर करें

केंद्र सरकार द्वारा सैनिक भर्ती योजना के लिए लाई गई अग्निपथ योजना का जहां देशभर में विरोध हो रहा है तो वही लालकुआं भी इससे अछूता नहीं है यहां बड़े पैमाने पर शहीद स्मारक पर क्षेत्र के युवा, जो आर्मी भर्ती की तैयारी कर रहे थे एकत्र हुए। जिसके बाद उनका काफिला लालकुआं नगर होते हुए तहसील लालकुआं में समाप्त हुआ।इस दौरान उप जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजकर उक्त भर्ती प्रक्रिया को तत्काल रद्द करने की मांग उठाई। यह मामला देशभर में गंभीर रूप लेता जा रहा है इसके दृष्टिगत रेलवे फाटक पर रेलवे प्रोटेक्शन फोर्स और राजकीय रेलवे पुलिस के जवान पूरी तैयारी के साथ मुस्तैद रहे वही सिविल पुलिस भी युवाओं के काफिले के साथ चलती रही जिसमें खुद कोतवाल संजय कुमार मॉनिटरिंग करते रहे।

हालांकि रेलवे फाटक से युवाओं के गुजरने के बाद रेलवे सुरक्षा बलों ने राहत की सांस ली।जिसके बाद मुख्य चौराहे से तहसील कार्यालय के बाहर तक युवा भाजपा सरकार मुर्दाबाद, नरेंद्र मोदी मुर्दाबाद और भारतीय सेना जिंदाबाद के नारे लगाते हुए तहसील परिसर में दाखिल हुए। यहां भी युवाओं ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की जिसके बाद युवाओं ने राष्ट्रपति को प्रेषित ज्ञापन की प्रति उप जिलाधिकारी मनीष कुमार सिंह को सौंपी और मनीष कुमार सिंह ने युवाओं को शांत कराया और कहा कि ज्ञापन को आगे भेज कर आवश्यक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।वही शांति व्यवस्था बनी रहे इसके लिए अधीनस्थों को भी दिशा निर्देश दिए जा रहे हैं बाद में युवा शांत होकर वापस लौट गए हालांकि चेतावनी देते हुए कह गए कि यदि जल्द ही इस मामले का समाधान नहीं हुआ तो क्षेत्र के अन्य युवा भी आक्रमक रुख अख्तियार करने को मजबूर होंगे। हालांकि विरोध प्रदर्शन से लेकर ज्ञापन देने तक खुफिया तंत्र ही पूरी तरह से सक्रिय दिखाई दिया।प्रदर्शन करने एवं ज्ञापन देने वालों में मुख्य रूप से रोहित गोस्वामी, दीपक पाठक, गौरव, हेम सिंह, सूरज सिंह, निशांत, पंकज त्रिपाठी, सुरेश चंद्र जोशी, पंकज जीना, अंकित सिंह, रवि जीना, पवन बोरा, पंकज जोशी, सूरज राणा, गोविंद,।दीपक सहित तमाम युवा मौजूद रहे।

Ad
Ad
Ad
Ad
यह भी पढ़ें -  रेडियोलॉजिस्ट रखोलिया को किया सम्मानित

Leave a Reply

Your email address will not be published.