Connect with us

उत्तराखण्ड

कृषि,सैनिक कल्याण एवं ग्राम्य विकास मंत्री गणेश जोशी ने काशीपुर पहुंचकर की विभिन्न योजनाओं की समीक्षा

काशीपुर। कृषि एवं कृषक कल्याण, सैनिक कल्याण एवं ग्राम्य विकास मंत्री गणेश जोशी ने बुद्धवार को ब्लॉक सभागार पहुंचकर विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने बैठक के अनुपस्थित रहने पर जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी, अधिशासी अभियंता विद्युत, नोडल अधिकारी वन विभाग का स्पष्टीकरण लेने के निर्देश दिए।

वरिष्ठ परियोजना अधिकारी उरेडा का स्पष्टीकरण लेते हुए एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए।

गणेश जोशी ने कुछ अधिकारियों के आधी अधूरी जानकारियों के साथ बैठक में प्रतिभाग करने पर सख्त नाराजगी जाहिर करते हुए स्पष्ट निर्देश दिए कि आगामी बैठकों में पूर्ण तैयारियों एवं जानकारियों के साथ प्रतिभाग करना सुनिश्चित करें।

उन्होंने समीक्षा के दौरान निर्देशित करते हुए कहा कि उपलब्ध धनराशि का सदुपयोग करते हुए योजनाओं को समयबद्धता, पारदर्शिता एवं गुणवत्ता से पूर्ण करना सुनिश्चित करें ताकि जनता को योजनाओं का लाभ समय से मिल सके।

उन्होंने कहां की गलत को छोड़ेंगे नहीं और सही को छेड़ेंगे नहीं। उन्होंने कहा कि सरकार जनता के द्वार एवं जनहित में लगातार कार्य कर रही है उन्होंने कहा कि उनके द्वारा विकास कार्यों की लगातार समीक्षा की जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार पूरी पारदर्शिता एवं इमानदारी से जनहित में कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में सरकार भर्ती घोटाले को उजागर करते हुए घोटाले बाजों को जेल भेजने का कार्य कर रही है।

उन्होंने महिला स्वयं सहायता समूह द्वारा उत्पादित सामान को बाजार उपलब्ध कराने हेतु आउटलेट की व्यवस्था करने के निर्देश परियोजना निदेशक को दिए। उन्होंने जनपद के रेशम उत्पादन को बढ़ावा देने हेतु कार्य योजना तैयार करने के निर्देश सहायक निदेशक रेशम को दिए।

यह भी पढ़ें -  नहीं रहे लोग गायक प्रहलाद मेहरा,हृदयगति रुकने से हुई मौत

मुख्य विकास अधिकारी विशाल मिश्रा ने बताया कि जिला योजना के अंतर्गत शासन से अवमुक्त धनराशि 3629.32 लाख रुपए के सापेक्ष 2827.59 लाख की धनराशि विभिन्न योजनाओं में खर्च हो चुकी है। उन्होंने बताया कि राज्य योजना अंतर्गत शासन से अवमुक्त धनराशि 25976.32 के सापेक्ष 20380.74 लाख की धनराशि खर्च हो चुकी है जबकि केंद्र पुरोनिधानित योजनांतर्गत 43247.11 के सापेक्ष 42162.30 लाख की धनराशि खर्च हो चुकी हैं।

उन्होंने बताया कि 20 सूत्रीय कार्यक्रम के अन्तर्गत 26 ए श्रेणी में, 4 विभाग बी श्रेणी, 1 विभाग सी तथा 1 विभाग डी श्रेणी में है।

बैठक का संचालन परियोजना निदेशक हिमांशु जोशी ने किया। विधायक त्रिलोक सिंह चीमा, मेयर ऊषा चौधरी, ब्लॉक प्रमुख अर्जुन कश्यप, जिलाध्यक्ष गुंजन सुखीजा, खिलेंद्र चौधरी सहित जिला विकास अधिकारी तारा ह्यांकी,जिला अर्थ एवम संख्याधिकारी नफील जमील, जिला पंचायतीराज अधिकारी आरसी त्रिपाठी, जिला युवा कल्याण अधिकारी मोहन सिंह नगन्याल आदि उपस्थित थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Continue Reading
You may also like...

More in उत्तराखण्ड

Trending News