एनीथिंग विलू डू नामक एनजीओ ने सरस्वती शिशु मंदिर विद्यालय को दान किए पांच डिजिटल कंप्यूटर

ख़बर शेयर करें

टनकपुर। सरस्वती शिशु मंदिर में आज विधालय में अध्ययनरत छात्र छात्राओं को डिजिटल दुनिया से आज़ रानीखेत सरस्वती शिशु मंदिर में अध्ययनरत पूर्व छात्रा दीक्षा सती एवं अपने पति चरनजीत और रवि कुमार द्वारा अपने एनजीओ एनीथिंग विलू डू के माध्यम से अपनी टीम के साथ आज सरस्वती शिशु मंदिर में अध्ययनरत छात्र छात्राओं को कंप्यूटर के नई सिस्टम के माध्यम से डिजिटल माध्यम से देश और विदेश में अगर अलग क्षेत्रों में कार्य कर रहे वालंटियर टीम द्वारा शिक्षा एवं समन्वय कैरियर संबंधी जानकारी विधालय में अधनरत छात्र छात्राओं के साथ जुड़ने में एक अनूठी पहल साबित होगा।

वहीं आज प्रार्थना बेला पर आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि एनजीओ की संस्थापक दीक्षा सती और चरनजीत दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया वहीं अतिथि चरनजीत द्वारा सम्बोधन में छात्र छात्राओं को उनके द्वारा शिक्षा क्षेत्र में एनजीओ के माध्यम से किए जा रहे कार्य के बारे में जानकारी दी।

वहीं उन्होंने कहा कि उत्तराखंड एक विकासशील प्रदेश है जहां शिक्षा सबका अधिकार है। जहां एक और पलायन जैसी समस्या को रोकने के लिए सरकारी प्रयत्नशील है वही दुसरी ओर एनीथिंग विल डू स्वयंसेवी संस्थान भी शिक्षा के क्षेत्र में बहुत काम कर रही है।

टनकपुर में कुंवर जंग बहादुर चंद सरस्वती शिशु मंदिर एक और प्रोजेक्ट एजुकेशनल सेन्टर कि शुरुआत की. जिसके माध्यम से ऑनलाइन सेन्टर के द्वारा बच्चों को मोटिवेशन, काउंसलिंग, स्किल डेवलपमेंट, जनरल नॉलेज मास्टर क्लासेस इस संस्था के वालंटियर्स के द्वारा कक्षाएं दी जाएँगी। यह हमारे एनजीओ के माध्यम से टनकपुर में सोलर वा प्रोजेक्ट सेंटर है। संचालित किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें -  रिठायत में आज से श्रीमद् भागवत कथा का शुभारंभ, महिलाओं ने निकाली कलश यात्रा

एनीथिंग विल दू कि सह संस्थापिका दीक्षा सती ने सम्बोधन उत्तराखंड अगर मोटिवेशन, काउंसलिंग या नॉलेज मिल जाये तो बच्चों का भविष्य बेहतर हो सकता है। वहीं उन्होंने कहा कि कम्प्यूटर्स और अन्य उपकरणों के माध्यम से ऑनलाइन पढाई करवाई जाएगी जिसके फलस्वरूप बच्चो को देश विदेश के टैलेंटेड वालंटियर्स से बात करने का सुनहरा अवसर प्रदान होगा इसी के साथ विद्यालय में अंतर्गत छात्र-छात्राओं से उनके कैरियर संबंधी जानकारी लेते हुए उन्हें पुलिस डॉक्टर आर्मी क्षेत्र में कैसे प्रवेश करना होगा। इसके बारे में जानकारी दी।

वहीं अन्य वक्ता जगदीश जोशी डा देवी दत्त जोशी द्वारा अपने सम्बोधन में छात्र छात्राओं को कैरियर संबंधी जानकारी दी और बच्चों को कैसे अपने भविष्य को सवारना है उसके संबंध में जानकारी दी गई है वहीं कार्यक्रम का संचालन विद्यालय के प्रधानाचार्य गोविंद बल्लभ जोशी द्वारा किए गए हैं।

इस अवसर पर विधालय के शिक्षक पूरन चंद जोशी, नवीन जोशी राजेन्द्र बिष्ट हीरा बल्लभ भट्ट सुंदर सिंह सहित आदि लोग मौजूद थे।

रिपोर्ट – विनोद पाल

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *