मतदाता दिवस के अवसर पर राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह(से नि) ने पहली बार मतदाता बने युवाओं को पहचान पत्र प्रदान कर किया सम्मानित

ख़बर शेयर करें

देहरादून। राजभवन ऑडिटोरियम में 13 वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह(से नि) ने प्रथम बार मतदाता बनने वाले युवाओं को मतदाता बैज एवं फोटो युक्त पहचान पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होंने मतदाता जागरूकता हेतु राज्य के दो निर्वाचन आइकॉन पद्मश्री कल्याण सिंह रावत ‘मैती’ और पद्मश्री प्रीतम भरतवाण को सम्मानित किया।

राज्यपाल ने विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2022 में निर्वाचन प्रबंधन, स्वीप, एक्सेसिबल इलेक्शन आदि क्षेत्रों में एवं मतदाता सूची के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम 2023 के दौरान सराहनीय कार्य करने वाले अधिकारियों एवं कर्मचारियों को भी सम्मानित किया। राज्यपाल ने इस अवसर पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय द्वारा तैयार किये गये कैलेंडर का विमोचन किया। राज्यपाल ने उपस्थित सभी लोगों को मतदाता शपथ दिलाई। इस अवसर पर राज्यपाल के सम्मुख निर्वाचन आयोग द्वारा तैयार किये गए मतदाता गीत ‘मैं भारत हूँ’ का भी अनावरण किया गया।

मतदाता दिवस के अवसर पर राज्यपाल ने प्रथम बार मतदाता बन रहे युवाओं को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि वे अपने मताधिकार के प्रयोग कर देश एवं प्रदेश के विकास में भागीदार बनें। उन्होंने कहा कि हमारे जीवंत लोकतंत्र के संचालन में चुनाव प्रक्रिया की प्रमुख भूमिका है। चुनाव प्रक्रिया की सफलता का आधार हमारे जागरूक मतदाता हैं।

उन्होंने कहा कि जागरूक मतदाता और उनके निर्वाचन में शत-प्रतिशत प्रतिभाग करना बहुत जरूरी है। यह हमारा कर्तव्य ही नहीं जिम्मेदारी भी है। उन्होंने युवाओं से अपील की कि वे सभी निर्वाचनों में बढ़-चढ़कर मतदान में प्रतिभाग करें।

राज्यपाल ने कहा कि देश एवं प्रदेश के विकास के लिए ईमानदार, कर्मठ, कुशल जनप्रतिनिधि चुने जाने जरूरी हैं। इस कार्य की सफलता के लिए मजबूत चुनाव प्रणाली और जागरूक मतदाता का होना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र को मजबूत बनाने के लिए हम सभी को शत-प्रतिशत मतदान में भागीदारी सहभागिता करना आवश्यक है।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड-यहां स्कूली बच्चों में जमकर चले लाठी-डंडे, बीच-बचाव कर रहे छात्र और टीचर घायल

उन्होंने कहा कि मतदाताओं को चुनाव प्रक्रिया की पूरी जानकारी होना आवश्यक है। इसके लिए निर्वाचन आयोग द्वारा समय-समय पर जागरूकता कार्यक्रम चलाए जाते हैं। उन्होंने कहा कि नये मतदाताओं को पंजीकरण के लिए प्रोत्साहित किये जाने के साथ-साथ उन्हें मताधिकार का महत्व बताया जाना जरूरी है।

मतदाता दिवस के अवसर पर सचिव निर्वाचन दिलीप जावलकर ने राष्ट्रीय मतदाता दिवस कार्यक्रम की संक्षिप्त रूपरेखा से उपस्थित लोगों को अवगत कराया। उन्होंने बताया कि निर्वाचन आयोग द्वारा इस वर्ष की थीम ‘Nothing like Voting, I vote for Sure’ ‘वोट जैसा कुछ नहीं, मैं वोट जरूर करूंगा’ है। सचिव ने बताया कि राष्ट्रीय मतदाता दिवस के अवसर पर प्रत्येक जनपद एवं ब्लॉक स्तर पर कार्यक्रम आयोजित किये गये हैं।

इस अवसर पर राज्य निर्वाचन आयुक्त चन्द्रशेखर भट्ट, मुख्य निर्वाचन अधिकारी सी.रविशंकर, अपर सचिव श्री राज्यपाल स्वाति एस.भदौरिया, संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रताप सिंह शाह, राज्य नोडल अधिकारी स्वीप मो.असलम सहित निर्वाचन विभाग से जुड़े अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *