Connect with us

उत्तराखण्ड

यहाँ हुई फ़र्ज़ी CBI रेड, लूटपाट मारपीट का आरोप, मुकदमा दर्ज

तीन लोग खुद को सीबीआई अफसर बताकर सहस्रधारा रोड स्थित एक फ्लैट में घुसे और लूटपाट करते हुए दो लोगों को उठाकर ले गए। आरोप है कि तीनों लोगों ने फ्लैट में मौजूद एक महिला सहित तीन लोगों के साथ मारपीट की और फिर कनपटी पर पिस्टल रखकर वहां एक बैग में रखे चार लाख रुपये, लैपटॉप और मोबाइल के साथ ही दो लोगों को उठा लिया। इसके बाद आरोपी दोनों लोगों को गाड़ी में बैठाकर दिनभर इधर-उधर घूमते रहे। किसी तरह एक व्यक्ति उनके चंगुल से छूटकर भाग गया। जबकि दूसरे को आरोपी गाड़ी सहित डाटकाली में छोड़कर फरार हो गए। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

एसओ रायपुर कुंदन राम ने बताया कि अमित कुमार निवासी देववंद ने तहरीर दी है। उन्होंने बताया कि 29 अगस्त को वह अपने साथी मुकुल त्यागी और उसकी दोस्त वैष्ण्वी के साथ सहस्रधारा रोड स्थित अपने फ्लैट में थे। सुबह करीब सवा छह बजे फ्लैट पर तीन अज्ञात व्यक्ति आए। तीनों ने खुद को सीबीआई दिल्ली का अधिकारी बताया और मारपीट शुरू कर दी। जोर जबरदस्ती कर आरोपियों ने उसके दोस्त मुकुल त्यागी और उसकी महिला दोस्त की गंदी वीडियो बनाई।

उसके भी गलत बयान का वीडियो बनाया। इसके बाद उन्होंने उनके चार लाख रुपये, दो लैपटॉप, दो फोन उठा लिए। इसके बाद तीनों आरोपी उन्हें और मुकुल त्यागी को परेड ग्रांउड के पास स्थित उनके ऑफिस ले गया। जहां उन्होंने ऑफिस में तोड़फोड की और दोनों के साथ मारपीट की। पीड़ित के मुताबिक इसके बाद वह उसी की कार में दोनों को इधर से उधर घुमाते रहे।तीनों बार-बार तीस लाख की फिरौती की मांग कर रहे थे। पीड़ित ने बताया कि वह किसी तरह से उनके चंगुल से बचकर भाग गया। जिसके बाद आरोपी मुकुल को गाड़ी समेत डाटकाली में छोड़कर फरार हो गए। एसओ ने बताया कि तहरीर के बाद आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड से पहला रुझान आया सामने , बीजेपी आगे , देखें

More in उत्तराखण्ड

Trending News