पुलिस ने लालकुआं से 24 दिन पहले गायब हुई युवती की हत्या के आरोपियों को किया गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें

लालकुआं। 24 दिन से लापता युवती की हत्या के मामले में लालकुआं पुलिस ने दो अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक हत्यारोपी ने फेसबुक के माध्यम से युवती से पहले फ्रेंडशिप की और बाद में उससे पीछा छुड़ाने के लिए दोस्त की मदद से उसकी हत्या कर दी।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि एसपी सिटी हरवंश सिंह एवं सीओ अभिनेय चौधरी तथा प्रभारी निरीक्षक डीआर वर्मा के नेतृत्व में गुमशुदा युवती अंजली आर्या की तलाश के लिए 3 टीमों का गठन किया गया था, जिन्हें गुमशुदा की तलाश के लिए अलग अलग राज्यों के लिए रवाना किया गया। पुलिस टीम ने शक के आधार पर दो संदिग्ध व्यक्तियों यामीन और सचिन सक्सेना उर्फ छोटू के सम्मिलित होने के साक्ष्य प्राप्त किये थे, शक के आधार पर उक्त दोनों व्यक्तियों से पूछताछ के लिए थाना पुलभट्टा बुलाकर गहन पूछताछ की गई। दोनों संदिग्धों द्वारा बताया गया कि अंजली आर्या से यामीन की फेसबुक व व्हाट्सएप के माध्यम से दोस्ती हो गई थी, दोनों के बीच आपस में काफी अच्छे दोस्ताना संबंध बन गए थे, दोनों की अक्सर किच्छा में मिलना जुलना होता रहता था।

आरोपियों ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि अंजलि यामीन से शादी करने का दबाव बना रही थी और खर्चे की मांग कर रही थी, यामीन उससे शादी नहीं करना चाहता था, वह उससे पीछा छुड़ाना चाहता था, सोची-समझी योजना के तहत 3 अगस्त को यामीन ने अंजलि को किच्छा बुलाया, किच्छा आने के बाद अंजली आर्य ने यामीन को फोन किया, यामीन अपने भाई की बुलेट मोटरसाइकिल लेकर अंजलि को लेने पहुंच गया। वहां से अपने मित्र सचिन सक्सेना को फोन कर बुलवाया गया। यामीन तथा सचिन सक्सेना अंजलि को मोटरसाइकिल में बैठाकर शक्तिफार्म रोड वन विभाग की चौकी से आगे जंगल में चले गए, सड़क से 500 मीटर अंदर जंगल में जाकर नाले के किनारे यामीन द्वारा चाकू से अंजली आर्य की गला रेत कर हत्या कर दी गई। दोनों मौके से फरार हो गए। यामीन ने सचिन सक्सेना को बहेड़ी उसके काम वाले स्थान पर छोड़ा और अपना घर चला आया।

यह भी पढ़ें -  विद्युत वितरण खंड चंपावत द्वारा विद्युत समस्या समाधान शिविर का आयोजन

पुलिस ने दोनों अभियुक्तों की निशानदेही के आधार पर यह दौरा जंगल से गुमशुदा अंजली का मृत्यु पड़ा शव चाकू बरामद किया। दोनों के विरुद्ध धारा 302, 201, 34 भादवी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। गिरफ्तार हत्यारोपियों में यामीन पुत्र मोहम्मद अहमद निवासी ग्राम बरा नियर गैस एजेंसी थाना पुल भट्टा तथा सचिन सक्सेना उर्फ छोटू पुत्र रतन लाल निवासी ग्राम बरा नियर गैस एजेंसी थाना पुल भट्टा शामिल हैं। अभियुक्तों को पकड़ने वाली पुलिस टीम में उपनिरीक्षक बलवंत कंबोज, आनंदपुरी, किशोर रौतेला, कृपाल सिंह, प्रदीप पाल, त्रिभुवन सिंह, अनिल शर्मा,कृपाल सिंह, कोतवाली लालकुआं आदि शामिल रहे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *