अनियमितता के मामले में रेंजर बृज बिहारी शर्मा गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें

रामनगर। विजिलेंस ने टाइगर सफारी के निर्माण की आड़ में अनियमितता के मामले में रेंजर बृज बिहारी शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में विजिलेंस के हल्द्वानी सेक्टर में पूर्व डीएफओ किशनचंद समेत कई अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था।जिम कॉर्बेट टाइगर रिजर्व की पाखरो रेंज में वन विभाग ने टाइगर सफारी बनाने का निर्णय लिया था। अनुमति मिलने के बाद 106 हेक्टेयर वन क्षेत्र में टाइगर सफारी के लिए बड़ों का निर्माण समेत अन्य काम होने थे।

2019 में टाइगर सफारी के लिए अवैध तरीके से पेड़ काटने और बड़े पैमाने पर अवैध निर्माण की शिकायत मिलने पर राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण की टीम ने स्थलीय निरीक्षण किया इस मामले में अनियमितताएं पाई गई थीं। शासन के इस प्रकरण की जांच विजिलेंस को सौंपी गई थी।

2022 में जांच पूरी कर पूर्व आई एफ एस अधिकारी किशन चंद और अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था।

एसपी विजिलेंस धीरेंद्र कुमार गुंजियाल ने बताया कि मुकदमे की विवेचना और प्राथमिक जांच में पात्रों के तत्कालीन रेंजर बृज बिहारी शर्मा की भूमिका भी मिली थी।के आधार पर दबिश दी गई। लेकिन बृज बिहारी शर्मा शर्मा लापता हो गए। उनकी लोकेशन असम में आ रही थी। टीम को वहां भेज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
Ad
Ad
यह भी पढ़ें -  विस में 2016 से पहले नियुक्त कर्मियों पर लग सकता है बड़ा झटका,पड़े खबर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *