Connect with us

उत्तराखण्ड

शीतकाल के लिए चतुर्थ केदार रुद्रनाथ के कपाट बंद, अब यहां दर्शन देंगे भगवान

चतुर्थ केदार रुद्रनाथ के कपाट आज बुधवार को शीतकाल के लिए विधि विधान से बंद कर दिए गए हैं। भगवान रुद्रनाथ के जयकारों के साथ उत्सव डोली गोपीनाथ मंदिर के लिए रवाना हो गई है।

शीतकाल के लिए चतुर्थ केदार रुद्रनाथ के कपाट बंद
आज विधि-विधान से चतुर्थ केदार रुद्रनाथ के कपाट शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए हैं। जिसके बाद उत्सव डोली गोपीनाथ मंदिर के लिए रवाना हो गई है। दो दिन हुई बर्फबारी के बाद आज कपाट बंद होने के समय अच्छी धूप खिली जिस कारण श्रद्धालुओं को दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ा।

मुख्य विकास अधिकारी ने भी किए भगवान रुद्रनाथ के दर्शन
सुबह आठ बजे विधि-विधान पूर्वक कपाट बंद किए। इस से पहले मुख्य विकास अधिकारी डॉक्टर ललित नारायण मिश्र भी रुद्रनाथ मंदिर पहुंचे। उन्होंने भगवान रुद्रनाथ के दर्शन कर आशीर्वाद लिया। बता दें कि अगले छह महीने गोपीनाथ मंदिर गोपेश्वर में भगवान रुद्रनाथ दर्शन देंगे।

chamoli
सबसे दुर्गम है रूद्रनाथ की यात्रा
आपको बता दें कि चतुर्थ केदार रुद्रनाथ धाम समुद्रतल से 11808 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। रुद्रनाथ धाम की यात्रा सबसे ज्यादा दुर्गम मानी जाती है। यहां तक पहुंचने के लिए सगर गांव से लगभग 19 किमी की दूरी को पैदल तय करना पड़ता है। सगर गांव गोपेश्वर जिला मुख्यालय से तीन किमी की दूरी पर स्थित है।

यह भी पढ़ें -  कोसी नदी का बढ़ा जलस्तर, खाली कराई दुकानें

More in उत्तराखण्ड

Trending News