सारथी फाउंडेशन ने कियामिसेज यूनिवर्स को सम्मानित

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी। मिसेज यूनिवर्स इंडिया 2019 डॉ नीमा पंत जी जो कि मेडिकल सेवा के अलावा एक समाजसेवी भी है। और जिन्होंने लगभग 54 बार ब्लड डोनेट किया है और जो लगातार समाज में ब्रेस्ट कैंसर, स्वच्छता, महिलाओं के उत्तम स्वस्थ के लिए लगातार कार्य कर रही हैं।साथ ही वो सारथी फाउंडेशन समिति के कार्यों को लगातार फॉलो करती है। और इसी कारण सारथी फाउंडेशन समिति के कार्यों से प्रभावित होकर संस्था से मिलने के लिए आई।

इस अवसर पर संस्था ने उन्हें शॉल,प्रतीक चिन्ह एवं सारथी थैला भेंट कर सम्मानित किया।अपने संबोधन में बोलते हुए डॉ नीमा पंत ने कहा कि उन्हें बहुत जगह पर सम्मान मिला परंतु अपनी मातृभूमि पर सम्मान प्राप्त करना बड़े गौरव की बात है और जब उन्हें मिसेज यूनिवर्स 2019 का खिताब मिला। तो अखबारों में लिख कर आया कि एक कुमाऊं की बेटी को यह खिताब मिला। मैं अपने मातृभूमि का नाम पढ़कर बहुत खुश हुई।

इसी तरह जब मैं सारथी को देखती हूं कि वे किस तरह से लगातार एक सारथी की तरह कभी ठंड में रजाई, और रोजगार के लिए रोजगार मेला आयोजित करना, शिक्षा के लिए गरीब बच्चों को किताबें मुहैया कराना और अंत में पर्यावरण के लिए जो महत्वपूर्ण मुहिम सारथी थैले की चलाई गई है। और इससे जिस तरीके से स्थानीय रोजगार को भी जोड़ा है। मैं निश्चय ही इस मुहिम की बहुत बड़ी प्रशंसक हूं और आज इस संस्था से मेरा भी जुड़ाव हो गया है।

मैं आज सारथी परिवार से मिलकर बहुत खुश हूं कि वाकई यह एक परिवार की तरह कार्य करता है और मुझे भी यहां आकर अपने परिवार जैसा महसूस हुआ। और जिस तरह से सारथी संस्था धरातल पर कार्य कर रही है मैं अपनी तरफ से पूर्ण सहयोग का वादा करती हूं।और आशा करती हूं कि आज नही तो कल जरूर समाज में परिवर्तन लाने में सारथी की अहम भूमिका होगी।

यह भी पढ़ें -  लायंस क्लब ने लगाया उपजिला चिकित्सालय में रक्तदान शिविर

संस्था के संस्थापक संयोजक नवीन पन्त ने उपस्थित सभी लोगों का आभार प्रकट कर संस्था के उद्देश्यो को बता कर धन्यवाद दिया। स्वागत भाषण कर श्रीमती सुमित्रा प्रसाद जी ने डा० नीमा पन्त जी का अभिवादन किया। और अपने विचार व्यक्त किए।

कार्यक्रम का संचालन ज्ञानेंद्र जोशी ने किया आज का कार्यक्रम हल्द्वानी अम्बिका विहार फेस 2 में सारथी संस्था के उपाध्यक्ष उमेश सैनी के निवास स्थान पर हुआ।आज के कार्यक्रम में सुमित्रा प्रसाद, नवीन पंत, समाजसेवी दीपक मेहरा, ज्ञानेंद्र जोशी, उमेश सैनी, दिशांत टंडन, दीक्षा पंत पांडे, पूजा पंत, भावना जोशी, पूनम सैनी, राजेश भारद्वाज, आनंद आर्य, प्रेम सिंह पाती, श्यामली छिम्वाल, आदित्य सैनी, कमल पन्त आदि रहे।