सड़क हादसे में व्यवसाई की मौत से मातम छाया

ख़बर शेयर करें

लालकुआं। गत रात्रि पाडली के पास इनवर्टर एवं बैटरी व्यवसाई तथा मारुति सर्विस सेंटर के स्वामी की सड़क दुर्घटना में दर्दनाक मौत के बाद आज दोनों के शव पहाड़ से लालकुआं पहुंचे तो नगर में मातम छा गया। भारी संख्या में व्यापारी एवं क्षेत्रवासी मृतकों की एक झलक देखने के लिए उमड़ पड़े।
विदित रहे कि यहां वार्ड नंबर 6 स्थित इंडिया इलेक्ट्रिकल्स के स्वामी सलीम अहमद उम्र 39 वर्ष एवं वार्ड नंबर 1 स्थित बालाजी मारुति सर्विस सेंटर के स्वामी ओंकार सिंह उम्र 33 वर्ष किसी काम से बुलेट मोटरसाइकिल द्वारा घूमने अल्मोड़ा जा रहे थे जहां पाडली के पास उनकी बाइक बोलेरो से टकरा गई जिसमें दोनों युवकों की दर्दनाक मौत हो गई, पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम कराया और आज दोनों के शव उनके परिजनों को सौंप दिए गए।

दोपहर को जैसे ही अलग-अलग एंबुलेंस में दोनों के शव लालकुआं बाजार में पहुंचे तो कल तक अपने अपने कारोबार में तल्लीन दोनों व्यापारी आज मृत हालत में लालकुआं पहुंचे तो बाजार में एकदम मातम छा गया, नगर के व्यापारियों की आंखों में आंसू थे, वही लोगों ने दोनों की मौत पर गहरा दुख जताया,विदित रहे कि उक्त दोनों युवक उत्तर प्रदेश के बहेड़ी क्षेत्र के रहने वाले हैं, उनके शव बहेड़ी ही ले जाए गए। कुछ देर के लिए दोनों के शवों को लालकुआं में दर्शनार्थ रखा गया था, इस दौरान क्षेत्रवासियों की भारी तादाद में भीड़ एंबुलेंस के पास लगी रही, इस दौरान दोनों मृतकों के परिजनों में कोहराम मचा हुआ था, वह विश्वास ही नहीं कर पा रहे थे कि दोनों व्यवसाई आज उनके बीच नहीं रहे।बालाजी मारुति सर्विस सेंटर के स्वामी ओंकार सिंह के नन्हे-मुन्ने बच्चे कुछ वर्ष पूर्व मां की लंबी बीमारी के बाद हुई मौत के उपरांत अब पिता की मौत से अब यतीम हो चुके हैं, नन्ने मुन्ने बेटा और बेटी अपने पिता की मौत से अत्यंत बेसुध हो गए हैं। उनके रिश्तेदारों को यह डर सताने लगा है कि उक्त दोनों बच्चों के आगे की जिम्मेदारी का निर्वहन अब कौन करेगा।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड में एक बार फिर से डोली धरती

दोनों व्यापारियों की मौत से क्षेत्र में शोक की लहर व्याप्त है, नगर पंचायत अध्यक्ष लाल चंद्र सिंह, व्यापार मंडल के अध्यक्ष दीवान सिंह बिष्ट, सभासद धन सिंह बिष्ट, हेमंत पांडे, दीपक बत्रा, पूर्व चेयरमैन रामबाबू मिश्रा, पवन चौहान, वरिष्ठ भाजपा नेता हेमंत नरूला, भुवन पांडे, सरदार गुरदीप सिंह, रवि शंकर तिवारी, जीवन कबड्वाल और नारायण सिंह बिष्ट सहित तमाम गणमान्य लोगों ने उक्त व्यापारियों के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त की है। इनवर्टर की दुकान के स्वामी सलीम अभी अविवाहित हैं, जबकि ओंकार सिंह के दो नन्हे मुन्ने बच्चे हैं, घटना के बाद से दोनों परिवारों में कोहराम मच गया है। वही क्षेत्र में शोक की लहर व्याप्त है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *