Connect with us

उत्तराखण्ड

जल्दी पूरी कर लें चारधाम यात्रा, इस दिन हो जाएंगे कपाट बंद

देहरादून: उत्तराखंड में अब मौसम बदल गया है। बर्फबारी शुरु होते ही तापमान भी गिरने लगा है। बढ़ती ठंड और बर्फबारी को देखते हुए अब गंगोत्री धाम और केदारनाथ धाम के कपाट बंद करने की तारीख और मुहूर्त भी तय कर लिया गया। गंगोत्री धाम के कपाट बंद करने का मुहूर्त तय कर लिया गया है। धाम के कपाट 14 नवंबर को अभिजीत मुहूर्त में दोपहर 11:45 बजे बंद किए जाएंगे।

यमुनोत्री व केदारनाथ धाम के कपाट भैया दूज पर्व पर 15 नवंबर को बंद किए जाएंगे। कपाट बंद करने के मुहूर्त अभी तय नहीं हुए हैं। वहीं, बदरीनाथ धाम के कपाट बंद करने की तिथि एवं मुहूर्त विजयादशमी पर्व पर 24 अक्टूबर तय होंगे।

गंगोत्री धाम के कपाट अब होंगे बंद
शारदीय नवरात्र के शुभारंभ पर रविवार को गंगोत्री मंदिर समिति के पदाधिकारियों की मौजूदगी में तीर्थ पुरोहितों ने गंगोत्री धाम के कपाट बंद करने का मुहूर्त निकाला। मंदिर समिति के सचिव सुरेश सेमवाल ने बताया कि परंपरा के अनुसार धाम के कपाट अन्नकूट के अवसर पर बंद किए जाते हैं।

इस वक्त उतारा जाएगा मां गंगा का मुकुट
इस बार 14 नवंबर को सुबह दस बजे मां गंगा के मुकुट को उतारा जाएगा। इसके बाद मां गंगा की उत्सव डोली यात्रा शीतकालीन प्रवास स्थल मुखीमठ (मुखवा) के लिए प्रस्थान करेगी। यमुनोत्री के कपाट भैया दूज पर्व पर 15 नवंबर को बंद होंगे।

15 नवंबर को बंद होंगे केदारनाथ धाम के कपाट
वहीं, श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के मीडिया प्रभारी डा. हरीश गौड़ ने बताया कि केदारनाथ के कपाट भी इसी दिन बंद होंगे। बाबा केदार की पंचमुखी चल विग्रह उत्सव डोली यात्रा शीतकालीन गद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ के लिए रवाना हो जाएगी।

Ad
यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड के राजकीय मेडिकल कॉलेजों में पीजी सीटें बढ़ाने की तैयारी, निरीक्षण के लिए जल्द आएगी एनएमसी की टीम

More in उत्तराखण्ड

Trending News