शिक्षक दिवस सम्मान समारोह संपन्न, डॉ.जग्गा,डॉ.बत्रा, मीनाक्षी शर्मा,आरती सैनी सहित कई शिक्षक-शिक्षिकाएं,छात्र-छात्राएं सम्मानित

ख़बर शेयर करें

हरिद्वार। गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के सभागार में हरिद्वार नागरिक मंच एवं इंटरनेशनल गुडविल सोसाइटी द्वारा शिक्षक दिवस के अवसर पर आयोजित सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि सांसद एवं पूर्व केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक के द्वारा मेधावी छात्रों एवं शिक्षक शिक्षिकाओं को सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर पूर्व केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ निशंक ने कहा कि शिक्षा के बिना मनुष्य पशु समान है शिक्षा मनुष्य को संस्कारित करती है। उन्होंने कहा कि जीवन में शिक्षक हमेशा मार्गदर्शक का कार्य करते हैं जीवन में आत्मानुशासन होना बहुत जरूरी है जो हमें तरक्की के रास्ते पर ले जाता है।

उन्होंने कहा कि भारत सरकार द्वारा लागू की गई नई शिक्षा नीति शिक्षा के क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन है यह सब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में ही संपन्न हो पाया है। नई शिक्षा नीति की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि देश में अब आईएएस बनना तो आसान होगा परंतु शिक्षक बनना बहुत कठिन होगा निशंक ने कहा कि शिक्षक छात्र-छात्राओं के भविष्य का निर्माण करता है इसलिए उसका समाज में सर्वोच्च स्थान है इस अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर रूप किशोर शास्त्री ने कहा कि शिक्षक समाज का मार्गदर्शक ही नहीं बल्कि संरक्षक है।

विशिष्ट अतिथि राज्यसभा की सांसद श्रीमती कल्पना सैनी ने कहा कि शिक्षक मानव संसाधन विकास का महत्वपूर्ण कार्य कर रहा है रानीपुर क्षेत्र के भाजपा विधायक आदेश चौहान ने कहा कि शिक्षक के बिना सभ्य समाज के निर्माण की कल्पना नहीं की जा सकती है o9उत्तराखंड महिला आयोग की संस्थापक अध्यक्ष रही डॉ संतोष चौहान ने कहा कि समाज के निर्माण में महिलाओं और शिक्षकों की भूमिका महत्वपूर्ण है यदि कोई महिला शिक्षक के रूप में कार्य कर रही है तो वह समाज में दोहरा योगदान दे रही है एक मां के रूप में वह जहां अपने परिवार को दिशा निर्देश देती है वही वह समाज के निर्माण में एक शिक्षक के रूप में अहम भूमिका निभाती है।
इस अवसर पर नागरिक मंच के मुख्य संरक्षक शिक्षाविद डॉ पीएस चौहान ने अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि शिक्षक का समाज निर्माण में सबसे अधिक योगदान है नागरिक मंच के अध्यक्ष जगदीश लाल पाहवा ने कहा कि एक शिक्षक कई पीढ़ियों को शिल्पकार की भांति तराश कर एक अच्छा नागरिक बनाता है और सभ्य समाज का निर्माण करता है इंटरनेशनल गुडविल सोसाइटी के अध्यक्ष मधुसूदन अग्रवाल ने कहा कि शिक्षक का समाज के विकास में महत्वपूर्ण योगदान है। दिल्ली पब्लिक स्कूल रानीपुर के प्रधानाचार्य डॉ अनुपम जग्गा ने नई शिक्षा नीति के लागू होने में डॉ रमेश पोखरियाल निशंक की अहम भूमिका की सराहना की और सभागार में आयोजित सभी छात्र छात्राओं और अतिथियों ने खड़े होकर नई शिक्षा नीति के लागू करने पर डॉ निशंक का आभार जताया और उनके प्रति सम्मान जाहिर किया कार्यक्रम का संचालन डॉ नरेश मोहन ने किया।

यह भी पढ़ें -  नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 127वीं जयंती पर स्वराज हिन्द फौज ने की मूर्ति लगाने की मांग

इस अवसर पर विभिन्न स्कूल कॉलेजों के मेधावी छात्र छात्राओं का सम्मान किया गया शिक्षक दिवस के अवसर पर एस.एम.जे.एन.पीजी कॉलेज के प्राचार्य डॉ सुनील कुमार बत्रा, डीपीएस के प्रधानाचार्य डॉ अनुपम जग्गा श्री मिथिलेश सनातन धर्म इंटर कॉलेज कनखल की प्रधानाचार्य श्रीमती मीनाक्षी शर्मा ओशो मार्शल आर्ट की राष्ट्रीय कोच श्रीमती आरती सैनी शिक्षिका अंशु शर्मा सहित कई शिक्षक शिक्षिकाओं का सम्मान किया गया इस अवसर पर नागरिक मंच के पूर्व महामंत्री देवेंद्र शर्मा,समाज सेविका श्रीमती कमला जोशी, प्रमोद चंद्र शर्मा, शिक्षाविद साहित्यकार आर एस पाठक, नेहा मलिक, राधिका नागरथ आदि मौजूद थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *