Connect with us

उत्तराखण्ड

केदारनाथ में सरकार के खिलाफ बढ़ा आक्रोश, आज से शुरू किया आमरण अनशन

केदारनाथ में तीर्थपुरोहित और हक-हकूकधारियों के दो दिन के क्रमिक अनशन के बाद से आज से लोग आमरण अनशन पर बैठ गए हैं। लोगों ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर वो उनकी मांगें नहीं मानेंगे तो वो जल्द ही चारों धामों में आंदोलन करेंगे।

केदारनाथ में लोगों ने आज से शुरू किया आमरण अनशन
केदरनाथ में भू-स्वामित्व के साथ भवन देने समेत विभिन्न मांगों को लेकर तीर्थ पुरोहित और स्थानीय लोगों ने आज से आमरण अनशन करने का फैसला लिया है। बता दें कि चारधाम तीर्थ महापंचायत ने भी आमरण अनशन को अपना समर्थन दिया है।

दस साल के बाद भी लोगों को नहीं मिला भू-स्वामित्व
साल 2013 में आई केदारनाथ की त्रासदी को आजतक कोई भी नहीं भूल पाया है। लेकिन उस त्रासदी के दौरान प्रभावित हुए केदारनाथ के लोगों को दस साल बीत जाने के बाद भी आज तक भू स्वामित्व नहीं मिला है। जिसे लेकर अब मांग और तेज हो गई है।

बंद बाजारों को खोलने से यात्रियों ने ली राहत की सांस
शनिवार को केदारनाथ में बाजार बंद का ऐलान किया गया था। जिस कारण यात्रियों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। लेकिन रविवरा को केदारनाथ में बंद प्रतिष्ठानों को खोल दिया गया है। हालांकि आंदोलन जारी है। प्रतिष्ठानों के खुलने से यात्रियों ने राहत की सांस ली।

केदारनाथ को सरकार बना रही जोशीमठ
तीर्थपुरोहितों का कहना है कि 24 घंटे प्रतिष्ठान बंद रखने के बाद भी सरकार द्वारा पना पक्ष नहीं रखा गया है। उन्होंने केदारनाथ में पुनर्निर्माण के तहत बनाए जा रहे तीन से चार मंजिला भवनों को लेकर भी नाराजगी जाहिर की है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार केदारनाथ को जोशीमठ बनाने का काम कर रही है।

यह भी पढ़ें -  किच्छा रोड पर एक कम्पनी के गोदाम में लगी भीषण आग, दमकल की पांच गाड़ियों ने पाया काबू

जल्द ही चार धामों में किया जाएगा आंदोलन
चारधाम तीर्थ महापंचायत ने इस आमरण अनशन को अपना समर्थन दिया है। चारधाम तीर्थ महापंचायत के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल का कहना है कि केदार सभा के बैनर तले चार सूत्रीय मांग को जल्द ही पूरा नहीं किया गया तो जल्द ही चारों धामों में आंदोलन तकिया जाएगा।

More in उत्तराखण्ड

Trending News