गैरसैण राजधानी से सार्थक होगी पहाड़ी राज्य की अवधारणा- कुंजवाल

ख़बर शेयर करें

अल्मोड़ा।(नवीन बिष्ट) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल ने कहा कि गैरसैंण को स्थाई राजधानी बनाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने गैरसैण राजधानी बनाने के लिए जो कार्य किए थे उसे भाजपा सरकार ने पूरी तरह रोक दिया है। पहाड़ी राज्य की अवधारणा तभी सार्थक होगी जब गैरसैण में राजधानी होगी।
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गोविंद सिंह कुंजवाल ने पत्रकार वार्ता में कहा कि कांग्रेस सरकार ने गैरसैण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाया। 250 करोड़ रुपए खर्च कर भराड़ीसैंण में भव्य भवन भी बनाया। जिसके बाद वहां सत्र भी आयोजित हुए। लेकिन दो साल से ग्रीष्मकालीन राजधानी में कोई भी सत्र नहीं हुआ। यह दुर्भाग्यपूर्ण तो है ही वहीं जनता के धन का भी दुरुपयोग है। उन्होंने कहा कि गैरसैण को स्थाई राजधानी बनाने के लिए आगामी 14 जुलाई को कांग्रेस के सभी कार्यकर्ता हरीश रावत के नेतृत्व में एसडीएम कार्यालय में तालाबंदी करेंगे। इसके बाद चरणबद्ध तरीके से आंदोलन करेंगे।
पूर्व स्पीकर कुंजवाल ने कहा कि आज राज्य बनने के 22 साल बाद भी उत्तराखंड को स्थाई राजधानी नहीं मिल पाई है। कांग्रेस का एक ही संकल्प है गैरसैण को स्थाई राजधानी घोषित करवाना। उन्होंने कहा कि पहाड़ का विकास और पहाड़ से पलायन भी तभी रुकेगा। उन्होंने अग्निवीर योजना को जनविरोधी बताते हुए कहा कि चार साल बाद युवा क्या करेंगे। पहाड़ के प्रत्येक घर में से एक बेटा सेना में नौकरी कर रहा है। यहां की अर्थव्यवस्था में तो सीधा असर पड़ेगा। रोजगार का एक बड़ा साधन खत्म हो जाएगा। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष पीतांबर पांडे आदि मौजूद थे।