पहाड़ की बेटी ने बनाया विश्व रिकॉर्ड, तीन दिन में साइकिल से पहुंची किलिमंजारो पर्वत की चोटी पर

ख़बर शेयर करें

देहरादून। प्रीति नेगी ने अफ्रीकी महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी किलिमंजारों पर तिरंगा फहराया है। रुद्रप्रयाग की रहने वाली प्रीति नेगी ने 18 दिसंबर को अफ्रीकी महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट किलिमंजारो को साइकिल से 3 दिन में फतह कर तिरंगा फहराया। इसके साथ ही प्रीति नेगी ने नया विश्व रिकॉर्ड भी बना दिया।

इससे पहले चार दिनों में इस समिट को पूरा करने का रिकॉर्ड था जो पाकिस्तान की समर खान के नाम था।जोश और जज्बा हाईप्रीति के लिए किलिमंजारों की समिट को पूरा करना आसान नहीं था। हालांकि उनके जज्बे और जोश के आगे किलिमंजारों की चोटी भी छोटी पड़ गयी। प्रीति ने अपने इस रिकॉर्ड को अपने शहीद पिता और सेना के जवान रहे राजपाल सिंह और एवरेस्ट विजेता सविता कंसवा और नोमी रावत को समर्पित किया है।

आपको बता दें कि रुद्रप्रयाग के तेवड़ी सेम, पोस्ट चंद्रनगर की रहने वाली प्रीति के पिता राजपाल सिंह भारतीय सेना में थे और साल 2002 में जम्मू कश्मीर में आतंकियों से लोहा लेते हुए वीरगति को प्राप्त हुए थे। कर चुकी हैं कई असंभव काम। प्रीति इससे पहले भी कई ऐसे ही असंभव काम कर चुकी हैं।

प्रीति ने हरिद्वार से केदारनाथ की दूरी साइकिल से चार दिनों में पूरी की थी। साइकिल से केदारनाथ पहुंचने वाली प्रीति उत्तराखंड की पहली बेटी हैं। अफ्रीकी महाद्वीप की किलिमंजारो चोटी अफ्रीका की सबसे ऊंची चोटी है। इसकी ऊंचाई समुद्र तल से 5895 मीटर या 19341 फीट है। किलिमंजारो पर्वत दुनिया का सबसे ऊंचा मुक्त खड़ा पर्वत है, साथ ही साथ विश्व का चौथा सबसे उभरा पर्वत है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
Ad
Ad
यह भी पढ़ें -  शक्तिमान एसोसिएशन टनकपुर के चुनाव संपन्न,जाने कौन जीता, कौन हारा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *