निर्मल पंडित जैसे प्रमुख राज्य आंदोलनकारी को भूली सरकार

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी। राज्य स्थापना दिवस के इस शुभ अवसर पर जब उत्तराखण्ड सरकार सम्पूर्ण प्रदेश मे राज्य स्थापना दिवस मना रही है तब उत्तराखंड के प्रमुख राज्य आंदोलनकारी उत्तराखंड राज्य आंदोलन के पुरोधा रहे स्व0 निर्मल पंडित और उनके परिवार को सरकार भूल चुकी है। स्व0 निर्मल पंडित की माताजी वर्तमान में हल्द्वानी में अपनी पुत्रियों के साथ निवास कर रही है । कई बार सरकार से राज्य आंदोलनकारियों और उनके आश्रितों को मिलने वाली पेंशन दिलाये जाने के लिए प्रार्थना कर चुकी है। लेकिन आज तक उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा स्व0 निर्मल पंडित व उनकी माता को राज्य आंदोलनकारी आश्रित होने के नाते कोई पेंशन प्रदान नहीं की जा रही है। जो कि अत्याधिक सोचनीय विषय है।

जहां आज उत्तराखंड राज्य को बने 22 साल हो गए हैं और सरकार लगातार राज्य आंदोलनकारियों को सम्मानित करने की बात कह रही है लेकिन स्वर्गीय निर्मल पंडित और उनके परिवार को सरकार भूल चुकी है। मात्र हल्ला मचाने से कुछ नहीं होगा, सरकार को धरातल पर भी कार्य करना चाहिए। ऐसे तमाम राज्य आंदोलनकारियों और उनके परिवारों की सुध भी सरकार को लेनी चाहिए।