Connect with us

कुमाऊँ

स्वयसेवियों ने जाना अनुशासन का महत्त्व

बागेश्वर। राष्ट्रीय सेवा योजना का सात दिवसीय शिविर चौथे दिवस में आज इंटर कॉलेज क्वैराली मे मुख्य अतिथि प्रेम प्रकाश उपाध्याय तथा प्रधानाचार्य कैलाश अंडोला की अध्यक्षता में संपन्न हुआ।
मुख्य अतिथि द्वारा समस्त स्वयंसेवकों को अनुशासन एवं एनएसएस के उद्देश्य सहित विभिन्न जानकारियां दी गई। अपने उद्बोधन मे मुख्य अतिथि में प्रेम ने बच्चों को चरेवती, चरेवती यानी उपनिषद का सूत्र वाक्य चलते रहो,चलते रहो का आह्वान किया। उन्होंने कहा जो जीवन में अनुशासन होकर चलता है उसे एक न एक दिन मंजिल जरूर मिलती है।

उन्होंने किताबो को अपने जीवन में शामिल करने को भी कहा। प्रधानाचार्य ने किताबी ज्ञान को जीवन में उतारने को कहा।
कार्यक्रम अधिकारी भूपाल गिरी गोस्वामी एवं श्रीमती मीनू चौनियाल ने राष्ट्रीय सेवा योजना के उद्देश्य तथा उपलब्धि के बारे में विस्तार से बताया। एनसीसी अधिकारी मोहन चन्द्र जोशी ने संस्कृत भाषा के माध्यम से बच्चो को प्रेरित किया।कार्यक्रम में सभी बच्चे,शिक्षक, शिक्षिकाए, व अन्य कार्मिक उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन स्वयंसेवी राहुल जोशी एवं पवन द्वारा किया गया।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें -  रामनगर के गर्जिया मन्दिर में लगी भीषण आग, कई दुकानें खाक
Continue Reading
You may also like...

More in कुमाऊँ

Trending News