जगदीश हत्याकांड के हत्यारोपियों को कतई नहीं बख्शा जाएगा: डा नीलेश

ख़बर शेयर करें

रानीखेत। पुलिस उप महानिरीक्षक डा नीलेश आनंद भरणे ने कहा कि जगदीश हत्याकांड के किसी भी हत्यारोपी को नहीं बख्शा जायेगा। मामले में अभी पूरी जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि सभी मुल्जिमों को जेल के सलाखों में पहुँचाया जायेगा। पुलिस उपमहानिरीक्षक कुमाऊं परिक्षेत्र ने कहा कि अल्मोड़ा जिले के भिकियासैंण में हुए जगदीश हत्याकांड के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है, उन्होंने कहा कि पुलिस गिरफ्तार अभियुक्तों की जमानत कतई नहीं होने देगी। इसके लिए सभी साक्ष्य जुटाए गए हैं। उन्होंने कहा कि पुलिस ने घटना को गंभीरता से लेते हुए जगदीश की हत्या के बाद अभी तक सामने आए अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है।

विवेचक पुलिस उपाधीक्षक को भी जांच के काम में लगाया गया है, डीआईजी दफ्तर की भी एक टीम जांच कर रही है उनका मकसद है हर एक मुलजिम को सलाखों के पीछे पहुंचाया जाएगा। बता दें कि 1 सितंबर को जगदीश चंद की हत्या के मामले में जांच तेज हो गई है ,वह खुद गांव पहुंचकर प्रभावित परिवार के साथ ही गांव के लोगों से मिले हैं। विवेचक सीओ रानीखेत ने भी घटनास्थल सीलापानी पहुंचकर तमाम लोगों से पूछताछ की। इस मामले में भिकियासैंण ब्लाक के बेटी गांव निवासी हत्यारोपी जोगा सिंह,भावना देवी, गोविंद सिंह की गिरफ्तारी पूर्व में हो चुकी है।अब पुलिस कड़ी से कड़ी मिलाकर तमाम साक्ष्य एकत्रित करने में जुटी हुई है।

अंतरजातीय विवाह से गुस्साए ग्राम बेलटी निवासी गुड्डी के सौतेले पिता, सौतेला भाई और मां को उसके, गुड्डी के पति दलित नेता जगदीश चंद्र की हत्या के आरोप में 2 अगस्त को पुलिस ने जेल भेज दिया था। अब यह मामला रेगुलर पुलिस को हस्तांतरित हो चुका है। सीओ रानीखेत के नेतृत्व में पुलिस टीम लगातार जांच में जुटी हुई है। घटनास्थल पर टीम ने कई एंगल से जांच कर घटना के संबंध में सीलापानी के लोगों से जानकारी ली। डीआईजी का कहना है कि यदि कोई अन्य आरोपी इस मामले में शामिल पाया गया तो उसे भी नहीं छोड़ा जाएगा।