Connect with us

Uncategorized

बद्रीनाथ धाम और हेमकुंड साहिब में हुई बर्फबारी, तीन फीट तक जमी बर्फ


प्रदेश में पर्वतीय इलाकों में सोमवार को मौसम ने करवट ली। बद्रीनाथ धाम और हेमकुंड साहिब में सोमवार को बर्फबारी हुईष बर्फबारी होने से एक बार फिर से धाम में ठंड लौट आई है। बर्फबारी होने के बाद मलारी-नीती हाईवे पर करीब तीव फीट तक की बर्फ जम गई है।




बीते कुछ दिनों से चटख धूप खिलने से लोगों को कड़ाके की ठंड से राहत मिली थी। लेकिन सोमवार को एक बार फिर से मौसम ने करवट ली है। दोपहर बाद बद्रीनाथ धाम और हेमकुंड साहिब सहित ऊंचाई वाले क्षेत्रों में जमकर बर्फबारी हुई। जिस कारण तीन फीट तक बर्फ जम गई है। गोपेश्वर, नंदानगर, जोेशीमठ, पोखरी सहित अन्य क्षेत्रों में शाम को तेज हवाएं चलीं।

14 मार्च के बाद शुष्क रहेगा मौसम
मौसम विभाग के निदेशक विक्रम सिंह के अनुसार मंगलवार को चमोली, उत्तरकाशी और पिथौरागढ़ जिले के कुछ इलाकों में हल्की बारिश होने की संभावना है। जबकि मैदानी इलाकों में मौसम शुष्क बना रहेगा। 14 मार्च के बाद मौसम शुष्क होने से अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहेगा। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक 11 से 13 मार्च तक पहाडी जिलों के कुछ इलाकों में हल्की बारिश होने के आसार हैं। वहीं 14 मार्च के बाद से मौसम पूरे प्रदेशभर में शुष्क रहेगा।

गौरीकुंड-केदारनाथ पैदल मार्ग से हटाई जा रही बर्फ
रुद्रप्रयाग में मौसम की दुश्वारियों के बीच गौरीकुंड-केदारनाथ पैदल मार्ग पर लोक निर्माण विभाग के 70 मजदूर बर्फ हटाने के कार्य में जुटे हुए हैं। छोटी लिनचोली में हिमखंड काटकर रास्ता बनाया जा रहा है। जंगलचट्टी से केदारनाथ तक पैदल मार्ग पर 2 से 6 फीट तक बर्फ जमा है

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें -  दिल्ली: पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने वापस ली याचिका, लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए मांगी थी अंतरिम जमानत

More in Uncategorized

Trending News