Connect with us

उत्तराखण्ड

इस कॉलोनी में आवंटित फ्लैट को तोड़कर बनाया मस्जिद ,संज्ञान में आने के बाद प्रशासन ने दिए यह निर्देश

एमडीडीए द्वारा आवंटित ईडब्ल्यूएस कॉलोनी के आवासीय भवनों के फ्लैट को तोड़कर मस्जिद ओर मदरसा बनाने का मामला सामने आया है। यहां पर सामूहिक रूप से नमाज पढ़ी जा रही थी। मामला संज्ञान में आने के बाद प्रशासन की ओर से एक्शन लेने के निर्देश दिए गए थे।


बता दें 17 अप्रैल को डालनवाला स्थित एमडीडीए कॉलोनी में रहने वाले राजकिशोर बलोदी ने जन शिकायत कर बताया था कि एमडीडीए की ओर से आवंटित ईडब्ल्यूएस कॉलोनी में आवासीय भवन 192-193 को तोड़कर मस्जिद और मदरसा बना दिया गया। जहां पर सामूहिक रूप से नमाज पढ़ी जाती है।

शपथ पत्र देकर मांगा समय
मामला संज्ञान में आने के बाद एडीएम प्रशासन के निर्देश पर एमडीडीए ने 31 जुलाई को निर्माण सील करने के आदेश पारित किए थे। लेकिन कार्रवाई से एक दिन पहले 30 जुलाई को भवन स्वामी लतीफुर्रहमान के शपथ पत्र पर एमडीडीए ने कार्रवाई को स्थगित कर दिया था। भवन स्वामी ने एमडीडीए में हलफनामा देकर बिल्डिंग की पहले की तरह मरम्मत करने के लिए एक हफ्ते का समय मांगा था।

MDDA की ओर से कार्रवाई स्थगित
भवन स्वामी के हलफनामा के बाद एमडीडीए सचिव एमएस बरानिया ने रविवार को ही शपथ पत्र स्वीकार कर कार्यवाही स्थगित कर दी थी। सचिव ने बताया कि भवन स्वामी ने खुद ही अपना निर्माण तोड़कर नक्शे के अनुसार करने की बात कही है। अगर ऐसा नहीं होता है तो एमडीडीए की ओर से सख्त एक्शन लिया जाएगा।

यह भी पढ़ें -  देहरादून: अजय गुप्ता और उसके बहनोई पर फेंकी स्याही, कोर्ट के बाहर हंगामा, बिल्डर साहनी मामले में आज सुनवाई

More in उत्तराखण्ड

Trending News