काठगोदाम रेलवे स्टेशन सहित कई अन्य रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ानें की धमकी, सुरक्षा एजेन्सी अलर्ट

ख़बर शेयर करें

हरिद्वार। उत्तराखंड के तमाम रेलवे स्टेशनों और धार्मिक स्थलों को बम से उड़ाने की धमकी भरा पत्र हरिद्वार रेलवे स्टेशन के स्टेशन अधीक्षक को मिलने के बाद पूरे राज्य में हड़कंप मच गया है।

आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के नाम से हरिद्वार रेलवे स्टेशन सहित उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश के कई रेलवे स्टेशनों और धार्मिक स्थलों को बम से उड़ाने की धमकी मिली है। आतंकी संगठन के एरिया कमांडर के हवाले से हरिद्वार रेलवे स्टेशन अधीक्षक को धमकी भरा पत्र मिला है। पत्र मिलने के बाद सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गई हैैं। तमाम स्टेशनों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

अधिकारियों के मुताबिक 10 अक्तूबर को हरिद्वार रेलवे स्टेशन अधीक्षक के नाम से साधारण डाक से कार्यालय में पत्र आया। स्टेशन अधीक्षक ने जब पत्र खोला तो उनके होश उड़ गए। पत्र में हरिद्वार रेलवे स्टेशन के साथ ही देहरादून, लक्सर, रुड़की, काठगोदाम, नजीबाबाद, शाहगंज सहित कई स्टेशनों को बम से उड़ाने की धमकी दी है। पत्र भेजने वाले ने खुद को आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का एरिया कमांडर बताया है। एक पन्ने के पत्र में दोनों तरफ हिंदी में लिखा है। चार धाम यात्रा को भी नुकसान पहुंचाने की धमकी 25 अक्तूबर को स्टेशनों पर बम विस्फोट करने की धमकी दी गई है। जबकि 27 अक्तूबर को उत्तराखंड के चारधाम के साथ ही अन्य धार्मिक स्थलों पर बम धमाके करने की चेतावनी दी गई है। यूएपीए एक्ट में मुकदमा दर्ज।

जीआरपी के अपर पुलिस अधीक्षक अरुणा भारती ने बताया कि धमकी भरा पत्र मिलने के बाद अज्ञात के खिलाफ गैर कानूनी गतिविधियां रोकथाम अधिनियम (यूएपीए एक्ट) में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि उत्तराखंड में पहली बार ये मुकदमा दर्ज हुआ है। इस मामले में गहनता से जांच कर रहे हैं। स्टेशन पर सुरक्षा व्यवस्था पूरी तरह चाक चौबंद है। स्टेशन पर आने आने वाले हर संदिग्ध व्यक्ति पर नजर रखी जा रही है।

यह भी पढ़ें -  पटवारी पेपर लीक मामले में एसआईटी ने की बड़ी कार्रवाई , दो गिरफ्तार

एस पी (जी आर पी) अरुणा भारती ने बताया, “पत्र में कई स्टेशनों और धामों को बम से उड़ाने की बात हुई है। हमने इसको गंभीरता से लेते हुए मामला दर्ज़ किया है। हमने ए टी एस, बी डी एस और अपने स्टाफ की टीमों को तैनात किया है।”

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *