कैंची धाम मंदिर जाने से पहले जानिए पुलिस के द्वारा जारी किया ट्रैफिक प्लान

ख़बर शेयर करें

कोरोना महामारी के बाद से 2 साल के बाद अब कैंची धाम मंदिर में मेले का आयोजन किया जा रहा है इसको लेकर नैनीताल पुलिस ने ट्रैफिक प्लान जारी किया है अगर आप भी बाबा नीम करौली महाराज के दर्शन करने जा रहे हैं, तो इस ट्रैफिक प्लान को देखकर ही घर से निकले। पिछले दो सालों से मेला बंद होने के कारण इस बार भारी मात्रा में श्रद्धालुओं के आगमन की आशंका को देखते हुए प्रसाशन ने भी कमर कस ली है।

  1. हल्द्वानी से अल्मोड़ा- पिथौरागढ़ को जाने वाले भारी वाहन यात्री वाहन, प्राइवेट वाहन आज 14 जून की सांय 5:00 बजे से खुटानी मोड़ भीमताल से, पदमपुर- पोखरा कासियालेख शीतला – मोना- ल्वेशाल होते हुए क्वारब को डायवर्ट किए जाएंगे।
  2. नैनीताल से अल्मोड़ा पिथौरागढ़ को जाने वाले भारी वाहन, यात्री वाहन, प्राइवेट वाहन, 14 जून की शाम 5:00 बजे से भवाली रामगढ़ तिराहे से होते हुए मल्ला रामगढ़, नथुआखान, क्वारब को डायवर्ट के जाएंगे।
  3. इसी प्रकार अल्मोड़ा पिथौरागढ़ से हल्द्वानी की ओर आने वाले सभी भारी, यात्री, प्राइवेट वाहन, 14 जून की शाम 5:00 बजे से क्वारब पुल से मोना- ल्वेशाल- शीतला- पदमपुरी होते हुए खुटानी बैंड से भीमताल की ओर डायवर्ट किए जाएंगे।
  4. रानीखेत से आने वाले भारी वाहन यात्री वाहन 14 जून की शाम 5:00 बजे से खैरना पुल से क्वारब होते हुए मोना – ल्वेशाल – पदमपुरी से खुटानी बैंड से भीमताल को डायवर्ट किए जाएंगे।

chaitanya
कैची मेले में आने वाले श्रद्धालुओं हेतु यातायात व्यवस्था।

  1. भवाली की ओर से आने वाले दो पहिया वाहन जंगलात बैरियर से आगे नहीं जाएंगे। इस बैरियर पर (टैक्सी और बस) शटल सेवा भी रोककर वापस भेजी जाएगी।
  2. हल्द्वानी, नैनीताल की ओर से अपने निजी वाहनों से आने वाले श्रद्धालुओं को पहले चरण में सिद्धि रेस्टोरेंट तक भेजा जाएगा, जहां से हरतपा रोड व भवाली की ओर एकतरफा पार्किंग की जाएगी।
    द्वितीय चरण में इस स्थान में दबाव बढ़ने पर सभी निजी वाहनों को भवाली में पार्क कर शटल सेवा से भेजा जाएगा।
  3. भवाली की तरफ से कैंची धाम जाने वाले शटल सेवा जंगलात खंडहर पर सवारी उतार कर वापस भवाली आ जाएंगे, इसी प्रकार खैरना से कैंची की ओर जाने वाले दर्शनार्थी शटल सेवा से पनीराम ढाबे तक आएंगे, तथा यात्रियों को उतार कर वापस चले जाएंगे।
  4. खैरना से कैंची धाम आने वाले दर्शनार्थी यात्री वाहन खैरना में पेट्रोल पंप के आगे खाली जगह पर ही अपने वाहन पार्क करेंगे, तथा शटल सेवा से पनीराम ढाबे तक आएंगे, और शटल सेवा से ही वापस जाएंगे।
    सेना के वाहनों के आवागमन को उक्त तिथि में परिवहन स्थगित किए जाने हेतु अनुरोध किया जा रहा है।
Ad
Ad
Ad
Ad
यह भी पढ़ें -  पत्रकार के विरूद्ध झूठी एफआईआर दर्ज करने पर नेशनलिस्ट यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स ने जताया विरोध

Leave a Reply

Your email address will not be published.