बीड़ा महादेव मंदिर में पंद्रह व सोलह को दो दिवसीय महाकौतिक का आयोजन

ख़बर शेयर करें

अल्मोड़ा। पिथौरागढ़ जिले से लगे सीमांत क्षेत्र सेराघाट बीड़ा महादेव मंदिर में पंद्रह व सोलह को दो दिवसीय महाकौतिक कार्यक्रम का आयोजन होने जा रहा है।
बीड़ा महादेव मंदिर सरयू नदी व जगन नदी के बीच में बसा हुआ मंदिर है। ये बीड़ा महादेव मंदिर 160 साल पुराना मंदिर है। अल्मोड़ा व पिथौरागढ़ जिले के सीमांत क्षेत्र सरयू व जगन नदी के बीच में ये बीड़ा महादेव मंदिर है। यहां पर दो दीवसीय मकर संक्रांति का मेला होता है। लेकिन कोरोना काल की उजह से दो साल यहां पर मकरसंक्रांति का मेला नहीं हुआ। लेकिन इस बार पंद्रह व सोलह को बीड़ा महादेव मंदिर के सामने सरयू नदी व जगन नदी के रिवाड में अलग अलग क्षेत्रों के आये हुए लोक कलाकारों के सांस्कृतिक कार्यक्रम व अलग क्षेत्रों व अलग जिले से आये हुए व्यापारी लोगों के द्बारा ये दो दिवसीय कार्यक्रम उत्साह पूर्वक मनाया जायेगा। अल्मोड़ा व पिथौरागढ़ के सीमांत एरिया के किसानों के द्वरा नारंगी,गन्ना, नींबू, अरबी,अखरोट, भट्ट,गहोत, आदि साग सब्जी व अन्य फलों के लिए पिथौरागढ़ व अल्मोड़ा जिले के सीमांत एरिया के किसान दो दिवसीय कार्यक्रम में अपना प्रतिभाग लेते हैं।

प्रताप सिंह नेगी समाजिक कार्यकर्ता ने बताया सेराघाट बीड़ा महादेव मंदिर में मकरसंक्रांति के साथ साथ एक दिवसीय शिवरात्रि का मेला व बैसाखी को एक दिवसीय दुतिया मेला भी इस महादेव मंदिर होता है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad Ad
Ad
Ad
Ad
यह भी पढ़ें -  भाकपा (माले) की टीम ने किया जोशीमठ का दौरा, दिए सुझाव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *