Connect with us

उत्तराखण्ड

नैनीताल में प्रशासनिक भवन में दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार आयोजन किया गया

रिपोर्टर भुवन सिंह ठठोला

नैनीताल में जलवायु परिवर्तन और आपदा से बचाव को लेकर नैनीताल के आर.एस. टोलिया प्रशासनिक भवन में दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार आयोजित किया गया। सेमिनार में देश भर से पहुँचे वैज्ञानिकों और

पर्यावरणविदों ने हिमालयी क्षेत्रों में बढ़ती आपदाओं की घटनाओं पर गहन चिंतन किया। सेमिनार में पहुँचे वैज्ञानिकों और वक्ताओं ने अपने अपने विचार रखे। एटीआई भवन में आयोजित इस सेमिनार के दौरान विशेषज्ञों ने कहा कि हिमालय ना सिर्फ डूब रहा है बल्कि यहां की संस्कृति और पर्यावरण भी खतरे में है। वक्ताओं ने कहा कि भौतिक सरण से हिमालय को नुकसान झेलना पड़ रहा है तो वही जमीन के भीतर भी हलचल बढी है। जिसके चलते पिछले कुछ सालों मे हिमालय सहित पहाड़ी राज्यों में लैंड़स्लाइड़ की घटनाएं बढी हैं। विशेषज्ञों ने कहा कि कैरिंग केपेसिटी तय करने के साथ ही हम सभी को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी। तभी हिमालय को बचाया जा सकता है

Ad
यह भी पढ़ें -  अफवाहों के बाजार पर एसएसपी ने लगाया विराम, कहा अब्दुल मलिक की अभी गिरफ्तारी नहीं, तलाश जारी

More in उत्तराखण्ड

Trending News