Connect with us

उत्तराखण्ड

राजकीय शिक्षक संघ ने प्रदेशभर में की तालाबंदी

अपनी मांगों को लेकर राजकीय शिक्षक संघ ने आज निदेशालय में कामकाज ठप कर दिया है। राजकीय शिक्षक संघ ने निदेशालय के चारों गेटों पर ताले लगा दिए हैं। बता दें कि शिक्षक लंबे समय से अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। मांगे पूरी ना होने पर शिक्षकों ने छह नवंबर को तालाबंदी की चेतावनी दी थी।राजकीय शिक्षक संघ से शिक्षा निदेशक सीमा जौनसारी के द्वारा बातचीत की गई। लेकिन इसके बावजूद शिक्षकों ने ताले नहीं खोले। अधिकारी अपने दफ्तरों में नहीं पहुंचे। बता दें कि शिक्षकों ने सुबह आठ बजे से ही निदेशालय में तालाबंदी कर दी है।12 बजे शिक्षक सामूहिक रूप से लोकसभा चुनाव में मतदान न करने को लेकर सामूहिक शपथ लेंगे। बात दें कि शिक्षकों ने पहले ही मतदान बहिष्कार का ऐलान कर दिया था। शिक्षकों ने अपने परिवार और रिश्तेदारों के साथ मतदान ना करने का ऐलान किया था।जहां एक ओर शिक्षक संघ ने शिक्षा निदेशालय में तालाबंदी कर दी हो तो वहीं दूसरी ओर सरकार इस पर कोई बड़ी कार्रवाई कर सकती है। बता दें कि तीन नवंबर को सरकार ने तालाबंदी को रोकने के लिए आदेश जारी किए थे। जिसमें कहा गया था कि निदेशालय में जबरन तालाबंदी नहीं होने दी जाए।

Ad
यह भी पढ़ें -  मशरूम गर्ल दिव्या रावत भाई के साथ गिरफ्तार

More in उत्तराखण्ड

Trending News