Connect with us

उत्तराखण्ड

 यहां झोपड़ी की दीवार के मलबे में दबने से पति-पत्नी और तीन बच्चे गंभीर घायल

भारी वर्षा होने के कारण एक झोपड़ी गिरने से झोपड़ी की दीवार के मलबे में दबने से पति-पत्नी और तीन बच्चे गंभीर घायल हो गए घायलों को परिजनों ने ढेलापुल स्थित एक निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया है जहां पर उनका उपचार चल रहा है। लगातार हो रही बारिश से जहां जनजीवन अस्त व्यस्त है

घायल यासीन

तो वहीं ग्राम बाबर खेड़ा निवासी नईम अहमद (33)पुत्र बतूनशाह अपनी पत्नी मोमिना (32) तथा (10) वर्षीय पुत्र रिहान (4) वर्षीय पुत्री ईलम तथा (6) वर्षीय पुत्र यासीन के साथ अपने घर में सोया हुआ था की तेज बारिश होने के चलते

घायल मोमिना

रात्रि करीब 11:30 बजे झोपड़ी की पिछली दीवार धड़ाम से गिर पड़ी जिससे झोपड़ी में सो रहे नईम अहमद ,पत्नी मोमिना,पुत्र यासीन,पुत्र रिहान, पुत्री ईलम दीवार के मलबे में दबाकर गंभीर रूप से घायल हो गए।

की पुकार सुन आस पड़ोस के लोगों ने कड़ी मशक्कत कर मलबे से घायलों को निकाल कर मुरादाबाद रोड स्थित ढीला पुल के निकट एक निजी चिकित्सालय में घायलों को भर्ती कराया है। जिसमे नईम अहमद दाहिनी टांग तीन जगह से फैक्चर हो गई है। और उसकी पत्नी मोमिना का आधा धड़ में गंभीर चोटे आई है। तथा पुत्र यासीन के सिर में गंभीर चोट लगी है जबकि रिहान और ईलम को डॉक्टर ने छुट्टी दे दी है। बता दे कि नईम अहमद दिव्यांग है और अपने परिवार का पालन पोषण मेहनत मजदूरी करके करता था नईम अहमद के घायल होने से परिवार पर संकट गहरा गया है नईम अहमद की आर्थिक स्थिति दयनीय है।

यह भी पढ़ें -  बीते 11 जुलाई को देवखड़ी नाले में बहे लापता युवक का शव यहां से हुआ बरामद

More in उत्तराखण्ड

Trending News