Connect with us

उत्तराखण्ड

बड़ी खबर- जेईई–2 पेपर परीक्षा के हैकर्स पर शिकंजा कसने के लिए बढ़ाई गई साइबर सुरक्षा

जेईई–2 की परीक्षा 6, 8, 10, 11, 12, 13 और 15 अप्रैल को होना सुनिश्चित है। इस परीक्षा से संबंधित सूचना एनटीए ने दे दी है। जेईई–2 की परीक्षा ऑनलाइन मध्यम से होगी। देश के उच्च तकनीकी संस्थान आईआईटी, ट्रिपल आईटी मे बीटेक, बीआई, एनआईटी, बआर्क मे प्रवेश हेतु जेईई 2023 सेशन–2 की साइबर सुरक्षा को बड़ा दी गई है।

अभ्यार्थियों को समय से शहर का नाम बता दिया गया जहा परिक्षा होगी लेकिन सैंटर की जानकारी अभ्यार्थियों को परीक्षा के 48–72 घंटे पहले ही मिल जायेगी।दरअसल इस पूरी कवायद के पीछे देश के कुछ हिस्सों में पूर्व मे ऑनलाइन परीक्षा के दौरान सॉल्वर और रूसी हैकिंग गैंग पकड़े जाने के बाद से ही इन परीक्षाओं की साइबर सुरक्षा बढ़ाने का निर्णय लिया गया।

साइबर सुरक्षा के बाद से हैकर सॉल्वर बैठा पाना या पेपर सॉल्व करना असंभव हो जाएगा। बता दे जेईई परीक्षा के दौरान भी पूरी सुरक्षा रखी जायेगी।परीक्षा कराने वाले संस्थानों ने जानकारी देते हुए कहा कि नई व्यवस्था से साइबर के खतरों को न्यूनतम किया गया है। जिस सेंटर से परीक्षा देनी है उसके बारे में पता होने के बाद जब समय नहीं बचेगा तो हैकिंग की संभावना नहीं रह जाएगी।

इससे छात्रों को थोड़ी मुश्किल तो हो सकती है, लेकिन परीक्षा पूरी पारदर्शिता से हुई तो यह मेधावी बच्चों के लिए उपयोगी साबित होगी।साथ ही आपको बताते चले कि सीयूईटी द्वारा आयोजित यूजी परीक्षा के लिए फिर से खोली गई विंडो।

विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा स्नातक (सीयूईटी–यूजी) के लिए आवेदन की तिथि को 11 अप्रैल तक बड़ा दी गई है। बता दे एनसीईआरटी की पाठ्य पुस्तकों को युक्तिसंगत बनाने के लिए उनमें किए गए बदलावों के बावजूद परीक्षा से संबंधित पाठ्यक्रम में परिवर्तन नहीं होगा।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड: जैन मुनियों के साथ दुर्व्यवहार, वीडियो वायरल होने पर सीएम धामी ने दिए जांच के आदेश, मुकदमा दर्ज

More in उत्तराखण्ड

Trending News