Connect with us

Uncategorized

पिथौरागढ़ की प्रसिद्ध कवयित्री पूर्व प्रधानाध्यापिका न्यू सेरा निवासी डाॅ० आनंदी जोशी के काव्यपाठ का सायं दूरदर्शन उत्तराखंड से प्रसारण किया

पिथौरागढ़ की प्रसिद्ध कवयित्री पूर्व प्रधानाध्यापिका न्यू सेरा निवासी डाॅ० आनंदी जोशी के काव्यपाठ का शनिवार 17 फरवरी की सायं दूरदर्शन उत्तराखंड से प्रसारण किया गया। उनकी कुमाउंनी भाषा की कविता-
“बिरुड़ा हर्याव च्यूड़ा, दुतिया कि धार याँ छ।
जौं बसन्त पंचमी का, घुगुतिया त्यार याँ छ।।
खोर पुजी अशीश दिनेर, ईजू की बलिहारी छ।
म्यार पहाड़कि माटी मैं कैं, प्राणन है ले प्यारी छ।।”
की प्रदेश भर के दर्शकों ने बहुत सराहना की है। काव्य पाठ के लिए दूरदर्शन ने पूरे प्रदेश से चार कवियों का चयन किया था। उनकी इस उपलब्धि पर साहित्यकारों, सामाजिक संगठनों, जनप्रतिनिधियों सहित मोहन चंद्र जोशी, डाॅ० पीतांबर अवस्थी, डाॅ० राखी रानाकोटी, मंजुला अवस्थी, चंद्रशेखर जोशी, राकेश देवलाल, हीराबल्लभ जोशी, दीपक पाठक, ललित शौर्य, लक्ष्मी आर्या, उदीता जोशी, डाॅ० प्रमोद श्रोत्रिय, बीना पाटनी, मथुरादत्त जोशी, ज्योत्सना, सौरभ जोशी, मीना मेहता, राजेंद्र जोशी, रमेश जोशी, आशा सौन, अनु जोशी, नीरज चंद्र जोशी आदि ने खुशी जताई है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड में मतदान तक ऐसा रहेगा मौसम का मिजाज, यहां देखें अपडेट

More in Uncategorized

Trending News