Connect with us

Uncategorized

चारधाम समेत ऊंची चोटियों ने ओढ़ी बर्फ की चादर, औली से लेकर नीती-माणा घाटी तक हुई बर्फबारी


प्रदेश में लंबे इंतजार के बाद मौसम ने करवट ली है और प्रदेश के ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हुई है। बुधवार को दोपहर बाद अचानक मौसम बदला और चारधाम समेत प्रदेश के कई ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हुई। जिसके बाद से प्रदेश में ठंड में इजाफा हो गया है।

प्रदेश में चारधाम समेत ऊंची चोटियों में हुई बर्फबारी
बुधवार दोपहर अचानक प्रदेश में मौसम बदला और एक महीने बाद चोटियों पर बर्फबारी हुई। जहां एक ओर ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हुई तो वहीं निचले इलाकों में कुछ स्थानों पर बारिश हुई। बुधवार को केदारनाथ, औली, बद्रीनाथ धाम, रुद्रनाथ, हेमकुंड साहिब, फूलों की घाटी, लाल माटी सहित नीती और माणा घाटी सहित कई इलाकों में बर्फबारी हुई।

चारधाम में जमकर हुई बर्फबारी
बुधवार को दोपहर बाद केदारनाथ धाम और ऊंची चोटियों में भी हल्की बर्फबारी शुरू हुई। केदारनाथ धाम में देर शाम तक बर्फबारी होती रही। इसके साथ ही गंगोत्री व यमुनोत्री धाम में भी बर्फबारी हुई। इसके साथ ही शीतकालीन पड़ाव मुखबा सहित झाला, बगोरी, जसपुर, पुराली, धराली, हर्षिल, सुक्की, खरसाली, जानकीचट्टी, नारायणपुरी और फूलचट्टी आदि गांवों में भी हल्की बर्फबारी हुई।

लंबे समय बाद बर्फबारी होने से लोग खुश
प्रदेश में लंबे समय से बर्फबारी नहीं हुई थी। जिस से व्यापारी, किसान मायूस हो गए थे। लेकिन बर्फबारी होने से पर्यटन कारोबारियों और सेब की खेती करने वाले किसानों के चेहरे खिल उठे हैं। बर्फबारी न होने से पर्यटक भी उत्तराखंड का रूख नहीं कर रहे थे लेकिन अब बर्फबारी होने के बाद पर्यटकों की संख्या बढ़ने की उम्मीद है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें -  19 अप्रैल तक सील रहेगी भारत नेपाल अंतर्राष्ट्रीय सीमा

More in Uncategorized

Trending News