Connect with us

Uncategorized

भीमताल में आदमखोर ने एक और युवती को बनाया शिकार, 13 दिनों में तीन की मौत से इलाके में दहशत

प्रदेश में बाघ और तेंदुए का आतंक खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। नैनीताल जिले में बीते एक महीने से बाघ और तेंदुए के हमले में चार लोगों की मौत हो चुकी है और कई अन्य लोग घायल हो गए हैं। मंगलवार शाम को भीमताल में एक बार फिर से गुलदार ने एक युवती को अपना शिकार बनाया है।

भीमताल में गुलदार ने युवती को बनाया शिकार
भीमताल में आदमखोर वन्य जीव के कारण आतंक फैल गया है। तीन महिलाओं की मौत के बाद भी ये पता नहीं चल पाया है कि आदमखोर बाघ है या तेंदुआ है। मंगलवार शाम आदमखोर ने अपने घर के पास ही घास काट रही एक युवती पर हमला कर दिया। हमले में युवती की मौत हो गई।

आदमखोर ने 13 दिनों में तीन को बनाया निवाला
मंगलवार शाम को आदमखोर ने करीब साढ़े चार बजे 19 वर्षीय निकिता शर्मा पर उसके घर के पास ही हमला कर दिया। बताया जा रहा है कि निकिता अपने पड़ोसियों के साथ खेत में घास काटने जा रही थी। इसी बीच घात लगाकर बैठे गुलदार ने उस पर हमला कर दिया। निकिता की मौत के बाद से ग्रामीणों में आक्रोश है। गांव वालों ने आतंक से निजात दिलाने पर ही शव उठाने का ऐलान किया है।

500 मीटर तक शव को ले गया घसीटकर
मिली जानकारी के मुताबिक आदमखोर निकिता को घसीटते हुए करीब आधे किमी तक ले गया। निकिता के पीछे दौड़े पिता और गांव वालों के शोर मचाने के बाद आदमखोर वहां से भाग गया। हाल ही में निकिता ने 12वीं की पढ़ाई पूरी की थी। तीन भाई-बहनों में वो दूसरे नंबर की थी। उसकी बड़ी बहन चंडीगढ़ में नौकरी करती है और भाई पढ़ाई कर रहा है। जबकि उसके पिता किसान हैं।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें -  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अजय टम्टा के समर्थन में मांगे वोट

More in Uncategorized

Trending News