Connect with us

Uncategorized

तराई में किसान संगठनों की बैठक, इस टोल प्लाजा को करेंगे बंद, दिल्ली कूच की बनाई जा रही योजना

संयुक्त किसान मोर्चा के ग्रामीण भारत बंद के आह्वान पर बाजपुर में विभिन्न किसान संगठनों से जुड़े ग्रामीण किसानों ने खेती-बाड़ी के कामों को बंद रखा। वहीं चीनी मिल गेट पर किसानों ने गन्ना सप्लाई बंद करवा दी और गेट के आगे दरी बिछाकर जोरदार धरना-प्रदर्शन किया गया। वहीं किसानों ने शनिवार को टोल प्लाजा बंद कराने का निर्णय लिया है।

संयुक्त किसान मोर्चा से जुड़े भूमि बचाओ मुहिम के संयोजक किसान नेता जगतार सिंह बाजवा ने कहा कि किसान आंदोलन के दौरान भारत सरकार ने तीन कृषि कानूनों को वापस लेते हुए किसानों से एमएसपी की गारंटी, बिजली बिल, कर्ज मुक्ति आदि विषयों पर आश्वासन दिया था, लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई।

इसी कारण संयुक्त किसान मोर्चा को भारत बंद की काल देनी पड़ी। किसानों की मांगों को लेकर कुछ किसान संगठन जो दिल्ली कूच कर रहे थे उन्हें भी हरियाणा सरकार द्वारा खनौरी व शंभू बार्डर पर रोका गया है, आंसू गैस के गोले, लाठीचार्ज में बहुत से किसान घायल हुए हैं।

भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष कर्म सिंह पड्डा ने कहा कि किसानों पर की जा रही तानाशाही ना रुकी तो जोरदार आंदोलन किया जाएगा। किसान यूनियन एकता उग्राहां के जिलाध्यक्ष महेंद्र सिंह रंधावा ने कहा कि भारत सरकार किसानों के साथ अमानवीय व्यवहार कर रही है, जो किसी भी तरह से बर्दाश्त योग्य नहीं है।

भाकियू के ब्लाक अध्यक्ष प्रताप सिंह संधू ने कहा कि सरकार की वादाखिलाफी व तानाशाही के खिलाफ किसान मजदूर शक्ति एकजुट होकर लड़ेगी। कार्यक्रम को भूमि बचाओ सत्याग्रह के अगुवा रजनीत सिंह सोनू, किसान नेता अजीत प्रताप सिंह रंधावा, बिजेंद्र सिंह डोगरा, अमरनाथ शर्मा, केके शर्मा आदि ने भी संबोधित किया। इस मौके पर जसवीर सिंह, गुरमीत सिंह पिंकू, देवेश प्रताप सिंह, शेर सिंह, गुरजीत सिंह, जगतार सिंह, राजकिशोर, महा सिंह आदि मौजूद थे।

बाजपुर 20 गांव का मसला भी जल्द हल हो : बाजवा
चीनी मिल गेट पर धरना-प्रदर्शन के दौरान बाजपुर के 20 गांव के भूमिधरी अधिकारों को लेकर चल रहे आंदोलन को लंबा समय होने के बावजूद भी हल ना होने पर आक्रोश व्यक्ति किया गया। भूमि बचाओ मुहिम के संयोजक जगतार सिंह बाजवा ने कहा कि मुख्यमंत्री के आश्वासन के बावजूद भूमि बचाओ आंदोलन को 200 दिन पूरे हो गए हैं, इस मसले का हल भी जल्द होना चाहिए, अब किसानों मजदूरों का धैर्य जवाब दे रहा है।

यह भी पढ़ें -  श्रील नवयोगेन्द्र स्वामी ने किया जय मॉ बगलामुखी पुस्तक का विमोचन

आज रुद्रपुर समेत कुमाऊं के टोल प्लाजा बंद करेंगे
दिल्ली हरियाणा बार्डर पर आंदोलित किसानों के समर्थन में सितारगंज मंडी परिसर में बैठक का आयोजन किया गया। संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले बड़ी संख्या में किसानों में प्रतिभाग किया। किसानों ने शंभू बार्डर पर आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में आज दोपहर 12 से तीन बजे तक रुद्रपुर समेत कुमाऊं के टोल बंद कराए जाने का निर्णय लिया गया।

साथ ही जरूरत पड़ने पर उत्तर प्रदेश के किसानों के साथ दिल्ली कूच करने की बात कही। भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष बलजिंदर सिंह मान ने कहा कि तीन साल हो जाने के बावजूद सरकार किसानों की मांगों को पूरा करने में असमर्थ साबित हुई है। उन्होंने पंजाब के किसानों के समर्थन में आवाज उठाते हुए सरकार से किसानों की मांगों पर चर्चा कर उन्हें पूर्ण करने की अपील की।

इस दौरान भारतीय किसान यूनियन चढूनी के प्रदेश अध्यक्ष गुरसेवक महार, नवतेजपाल सिंह, बलजिंदर मान, साहब सिंह बिस्टी, हरभजन सिंह, राजेंद्र सिंह, डा. जगदेव सिंह, चरणजीत सिंह, पलविंदर सिंह, प्रतपाल सिंह, दिलबाग सिंह, हरजीत सिंह, दलबीर सिंह, जसवंत सिंह जस्सा, दलबीर सिंह, मनविंदर सिंह, गुरसाब सिंह, मनप्रीत सिंह आदि मौजूद थे

काशीपुर में बैठक कर दिल्ली कूच को तैयार रहने की अपील
एमएसपी व अन्य मांगों को लेकर मुरादाबाद रोड स्थित मंडी गेस्ट हाउस में भारतीय किसान यूनियन की बैठक आयोजित हुई। भारतीय किसान यूनियन के कुमाऊं मंडल अध्यक्ष विक्की रंधावा एवं युवा प्रदेश अध्यक्ष जितेंद्र सिंह जीतू ने किसानों से आह्वान किया कि वह शनिवार को दोपहर 12 बजे से तीन बजे तक एमएसपी और किसानों की अन्य प्रमुख मांगों के समर्थन में कुमाऊं भर के टोल प्लाजा पर बैठें।

यह भी पढ़ें -  दर्दनाक हादसा: अनियंत्रित होकर कार नदी में गिरी, चार की मौत

इस दौरान विरोध स्वरूप से वहां से गुजरने वाले वाहनों को भी टैक्स फ्री कराने की बात कही। कहा कि दिल्ली कूच के लिए भी किसान तैयार रहें। बैठक में हरविंदर सिंह, सुखवंत सिंह, दीपक चौधरी, हरपिंदर, धर्मेंद्र, राजू, राजू छीना, रवि ढींगरा, सुखबीर भुल्लर, मनदीप ढिल्लों, मनप्रीत सिंह, हरविंदर, बलविंदर सिंह, प्रदेश महासचिव अमनप्रीत सिंह, प्रताप विर्क अन्नदाता किसान यूनियन प्रदेश अध्यक्ष आदि रहे।

नानकमत्ता में किसान संगठन गांव-गांव पहुंचे
ग्रामीण भारत बंद को लेकर अखिल भारतीय किसान सभा ने गांव गांव जाकर भारत बंद को लेकर आह्वान किया। अखिल भारतीय किसान सभा के नेतृत्व में दर्जनों किसान व मजदूर मंडी में एकत्र हूए। जहां उन्होंने सभा कर ग्रामीण भारत बंद को सफल बनाने के लिए गांव गांव जाकर संपर्क करने का आह्वान किया।

किसान यूनियन के अध्यक्ष लोहार सिंह राणा ने कहा कि पूरे भारत में ग्रामीण भारत बंद का आह्वान किया गया है। जिसको सफल बनाने के लिए किसानों द्वारा ग्राम इटोआ, मोहम्मद गंज समेत कई गांव का भ्रमण कर ग्रामीण भारत बंद करने की जानकारी दी। इस मौके पर डोहरी लाल राणा, सुरेश सिंह राणा, खड़क सिंह राणा, लक्ष्मण सिंह राणा, कुंवर सिंह राणा, प्रवेश सिंह राणा, मुकुल सिंह आदि मौजूद थे।

खनन कारोबारियों ने भी दिया भारत बंद को समर्थन
कोसी कांटा चौराहा स्थित हाथीकुंडा में शुक्रवार को खनन कारोबार से जुड़े ट्रांसपोर्टरों व चालकों ने भी भारतीय किसान यूनियन के भारत बंद के समर्थन में कार्य बंद रखा। हाथीकुंडा में प्रदर्शन व नारेबाजी की गई। किसान नेता हरप्रीत सिंह निज्जर ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से 16 फरवरी को ग्रामीण भारत बंद का आह्वान किया गया था।

केंद्र सरकार आसानी से किसानों की मांग नहीं मानने वाली, इसके लिए देशभर के किसानों को एकजुट होकर आंदोलन करना पड़ेगा। इस मौके राजवीर चीमा, शीतल सिंह, सोबर चीमा, अनमोल चीमा, विक्की, जीवन, गुरप्रीत सिंह, पिंदरपाल सिंह, आदि मौजूद थे।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad

More in Uncategorized

Trending News