Connect with us

Uncategorized

टनकपुर ग्रामीण छेत्रो में बढ़ रहा बंदरो का आतंक ग्रामीण महिलाओं नें कैम्प कार्यालय में दिया ज्ञापन

रिपोर्ट – विनोद पाल

टनकपुर – ग्रामीण छेत्र मनिहारगोठ व पूर्वी बिचई में बंदरो के आतंक से परेशान होकर ग्रामीण महिलाएं केम्प कार्यालय पहुंची जहाँ उन्होंने आक्रामक बंदरो के आतंक से निज़ात दिलाये जाने की गुहार लगायी साथ ही उपजिलाधिकारी के नाम एक ज्ञापन सौपा गया

ग्रामीण महिला जानकी चंद नें बताया ग्राम मनिहारगोठ व पूर्वी बिचई अधिकतर परिवार कासत्कारी कर अपनी आजीविका चलाते हैं वर्तमान समय में उत्पाती बंदरो द्वारा फसलों को बरबाद कर दिया जा रहा है वहीं घरों में घुसकर खाद्य सामाग्रीयों को भी उठा कर ले जाते हैं साथ ही आक्रमक बंदर बच्चों, बुजुर्ग व महिलाओं पर आक्रामक होकर हमलावार हो जाते है ऐसे में किसी बड़ी अनहोनी का खतरा अक्सर बना रहता, वहीं महिलाओं नें माग करी हैं की वन विभाग के द्वारा पिंजरा लगाकर बंदरो को पकड़कर सुरक्षित जंगलो में छोड़ा जाये जिस से सभी ग्रामीणों को इस समस्या से निज़ात मिल सके वहीं इस समस्या को गंभीरता से लेते हुए केम्प कार्यालय अधिकारी राजपाल चौहान नें बताया की ग्राम मनिहारीगोठ और पूर्वी बिचई की ग्रामीण महिलाओं द्वारा ज्ञापन दिया गया है जिसमे उन्होंने बंदरो द्वारा किये जा रहे नुकसान व समस्या से अवगत कराया है जिसका संज्ञान लेते हुए हमारे द्वारा वन विभाग अधिकारी (DFO)से वार्ता की गई है और महिलाओं को आश्वस्त किया गया है कि तीन दिनों में इस समस्या से निजात मिल जाएगी
इस दौरान ज्ञापन देने वाली महिलाओं में दीपा भट्ट, लक्ष्मी भट्ट, सलीमा खातून, निशा खातून, अनीसा खातून शयमा खातून, शाहिदा खातून माया कॉलोनी, ज्योति कॉलोनी, मंजू गहतोड़ी आदि ग्रामीण महिलाएं मौजूद रही

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड में सड़क हादसा: 35 यात्रियों से भरी सवारी बस सड़क पर पलटी, घायलों को अस्पताल में कराया भर्ती

More in Uncategorized

Trending News