Connect with us

उत्तराखण्ड

उत्तराखंड से ठुमक-ठुमक कर सात समंदर पार पहुंचा ‘गुलाबी शरारा’, शेफ से सिंगर तक का ऐसा रहा इंदर का सफर

ठुमक ठुमक, जब हिट छै तू पहाड़ी बाट्यूं मा…उत्तराखंड का यह कुमाऊंनी गीत गुलाबी शरारा इन दिनों देश ही नहीं विदेश में भी इंटरनेट मीडिया पर धमाल मचा रहा है। यह गाना इतना अधिक प्रसारित हो रहा है कि छोटे बच्चों से लेकर महिलाएं, फिल्मी सितारे व विदेशी तक इस गाने पर ठुमकते हुए देखे जा रहे हैं।

तंजानिया के मशहूर सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर किली पाल भी इस पर रील बना चुके हैं। रील बनाने के साथ ही लोग इंटरनेट मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर कर रहे हैं।
देखते ही देखते वायरल हो गए इंदर
छह अगस्त को रिलीज इस गीत को यूट्यूब पर अब तक तक पांच करोड़ से अधिक व्यूज मिल चुके हैं। जबकि अकेले इंस्टाग्राम पर ही 40 लाख से अधिक लोग इस पर रील्स बना चुके हैं। उत्तराखंडी गीत का इंटरनेट मीडिया पर शुमार होने वाले गीतों में यह भी शामिल है। अल्मोड़ा के लोक गायक इंदर आर्य का यह गीत आजकल आम से लेकर खास की जुबां पर छाया हुआ है।

इंदर आर्य ने गाया है ये गाना
इस गीत को गाने वाले लोक गायक इंदर आर्य मूल रूप से अल्मोड़ा के बागपाली गांव से हैं। जितने सुपरहिट गाने देकर इंदर आजकल सबके चहेते बने हैं, उतने ही इंदर सामान्य जीवन जीते हैं, जो कि एक छोटी सी नौकरी कर आज इस मुकाम तक पहुंचे हैं। इंदर ने गांव से ही इंटरमीडिएट किया। रोजगार के लिए शहर की ओर रुख किया।

15 साल तक शेफ रहे इंदर आर्य
काम की तलाश में राजस्थान, हरियाणा, पंजाब में होटल में 15 वर्ष तक शेफ रहे। एक दिन इंदर ऐसे ही गुनगुना रहे थे तो साथियों ने कहा कि वह काफी अच्छा गाते हैं, इसलिए गायन की दुनिया में आ गए। साथियों की इस प्रेरणा से इंदर ने वर्ष 2018 में सिंगिंग के क्षेत्र में कदम रखा।

यह भी पढ़ें -  खतरे की जद में प्रदेश की 13 ग्लेशियर झीलें, वैज्ञानिकों ने चेताया, सरकार ने निगरानी बढ़ाई

ये गीत रहे हैं सुपरहिट
तेरो लहंगा पहला गीत काफी हिट रहा। इंदर के एक के बाद एक गीत को लोगों ने खूब पसंद किया। दैनिक जागरण से बातचीत में इंदर ने बताया कि अब तक वह एकल व युगल 500 से अधिक गीत गा चुके हैं। इसमें हे मधु…, मठु- मठु…, एके 47 हाथ मा…, तेरी मेरी जोड़ी फर्स्ट क्लास.., फोटो तेरी…, नथुली की डोर…, तू लगी रे छै स्वाना…, मेरो लहंगा…, तेरो लहंगा…, बोल हीरा बोल…, मार्डन कुमाऊं.., मुखुड़ी बे चुनरी हटाली रे…, नजर न लागो…, तू मेरी पहाड़न…, जुन्याली रातु मा रायफल छ हाथों मा…, बण जा मेरी जोगयानी… आदि गीत इंटरनेट मीडिया पर खूब प्रसारित हुए। 20 गानों को दो करोड़, 50 गानों को 10-10 लाख से अधिक व्यूज मिले।

संगीत में करियर की ओर नहीं गया ध्यान
इंदर बताते हैं कि बचपन में गुनगुनाते तो थे, लेकिन संगीत में करियर को कभी सोचा नहीं। लेकिन होटल में काम करने के दौरान जब साथियों ने उन्हें प्रेरित किया तब जाकर उन्होंने संगीत के क्षेत्र में कदम रखा। आज सभी का प्यार मिल रहा है। 35 वर्षीय इंदर के घर में माता-पिता के अलावा पत्नी पुष्पा व दो बेटे अनीश व यमन हैं। इंदर के अनुसार उन्हें बच्चों से भी काफी प्यार मिलता है। जब भी कोई कार्यक्रम में प्रस्तुति देने के बाद घर लौटते हैं तो बच्चे उनके गीतों को लेकर प्रतिक्रिया देते हैं।

गुलाबी शरारा को पहले तीन महीने में नहीं मिला रिस्पांस
अगस्त में रिलीज हुआ गुलाबी शरारा गीत को पहले चार महीने में खास रिस्पांस नहीं मिला, लेकिन पिछले डेढ़ महीने के भीतर यह गीत हर जुबां पर छाया हुआ है। इस गीत को इंदर आर्य ने आवाज दी है, म्यूजिक गंगोलीसाब, प्रोड्यूसर जितेंद्र सिंह रावत, लिरिक्स गिरीश जीना, जबकि राकेश जोशी व नीरू बोरा ने अभिनय किया है।

यह भी पढ़ें -  आईएएस विशाल मिश्रा को नगर आयुक्त हल्द्वानी बनाया

गुलाबी शरारा पर इन्होंने भी लगाए ठुमके
यूट्यूब के ट्रेंडिंग गानों में शुमार इंदर आर्य का गुलाबी शरारा को अभिनेत्री हिमानी शिवपुरी, शिवांगी जोशी, कॉमेडियन भारती सिंह ने भी डांस किया। इसके अलावा दिल्ली मेट्रो से लेकर स्कूली बच्चों व जिम में भी युवा इस गाने पर डांस करते नजर आए, जो इंटरनेट मीडिया पर काफी प्रसारित हुआ।

हर्षवर्धन गोयनका ने भी किया वीडियो साझा
बीते मंगलवार को आरपीजी एंटरप्राइजेज के अध्यक्ष हर्षवर्धन गोयनका ने इंटरनेट मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर एक वीडियो साझा की। जिसमें उन्होंने लिखा, ये उत्तराखंडी गाना वायरल हो गया है। मुझे आशा है कि आप भी इसकी ताल का उतना ही आनंद लेंगे जितना मैं उठाता हूं।

Ad

More in उत्तराखण्ड

Trending News