देखें, हिमांचल के कुल्लू,सैंज स्थित गौरी शंकर आश्रम में महा शिवपुराण कथा का सुंदर चित्रण

ख़बर शेयर करें

कुल्लू ( हि.प्र.)। शंकर गिरी महाराज की स्मृति में उनके परम शिष्य श्री नागा बाबा चेतन गिरी महाराज द्वारा तपस्थली श्री गौरीशंकर महादेव व श्री लक्ष्मी नारायण की असीम कृपा से सैंज जिला कुल्लू, हिमाचल प्रदेश में महाशिवपुराण का आयोजन किया गया है। यह आयोजन 3 जुलाई से 13 जुलाई तक चलेगा। तद्पश्चात उसी दिन भंडारे के साथ संपन्न होगा।
हमारे संवाददाता दिनेश चंद्र पंत ने बताया कि इस ज्ञान गंगा महायज्ञ का आयोजन 13 जुलाई गुरु व्यास पूजा के साथ संपन्न होगा।

उन्होंने बताया व्यास जी महाराज डॉ मनोज चंद्र पांडे द्वारा सुंदर भांति भांति की कथा के माध्यम से जग चेतना जागृति के लिये विभिन्न विषय में भक्तों को समझाया। उन्होंने महाशिवपुराण क्षेत्रीय भारत देश व विश्व कल्याण के उद्देश्य से किये जा रहे सुख शांति समृद्धि की कामना से किया। यह यज्ञ विश्व शांति के लिए है इसमें व्यास जी द्वारा शिवजी की अनेकानेक कथाओं के माध्यम से लोगों को आपसी भाईचारा व प्रेम सौहार्द लाने की दिशा में प्रे प्रेरित किया गया है ।

उन्होंने बताया जिसमें कलश यात्रा से शुभारंभ करते हुए ज्ञान गंगा का अमृत कलश छल खाते हुए भगवान शंकर से सुख समृद्धि की कामना की व्यासपीठ से पर्यावरण गंगा की पवित्रता गंगा जमुना तहजीब सनातन धर्म की रक्षा हेतु उपाय सती””कथा शिव जी और पार्वती के विवाह की सुंदर व्याख्या से लोगों का मन मोह लिया गणेश जन्म कार्तिकेय जन्म उनकी उत्पत्ति का कारण बताते हुए ज्ञान गंगा की अमृत वर्षा से से 3 जन समुदाय को लाभान्वित किया गया साथी तारकासुर वध मोहिनी अवतार वह एकादशी के महत्व को बताया गया तुलसी “की कथा का भी सुंदर चित्रण किया गया ।

उत्तराखंड राज्य से विद्वान ब्राह्मणों एवं क्षेत्रीय ब्राह्मणों द्वारा यज्ञ को संपन्न किया गया जिसमें सर्वश्री देश संत जगदीश चंद्र लोहानी ललित पंत नवीन तिवारी गंगा प्रसाद भूपेश शर्मा टीकम शर्मा पन्ना लाल शर्मा जीवन शर्मा पवन शर्मा यजमान मनीष शर्मा निर्मला शपथ योगेश शर्मा रेखा शपत निक बाबा कैलाश गिरी बाबा सोमवार गिरी सहित अनेक लोगों ने महाशिवपुराण एवं ज्ञान गंगा का सफल चिंतन किया जा किया गया ।

उत्तराखंड हिमालय से शंकर भगवान की बारात जब हिमाचल प्रदेश पार्वती जी के मायके पहुंची तो इसका सुंदर चित्रण वाणी से करना असंभव है भगवान आशुतोष समस्त विश्व का कल्याण करें यही कामनाओं के साथ सैन्य घाटी सुंदर प्रकृति सुंदर से पूर्ण है जिसके छटा देखते ही बनती है शिवजी के ससुराल की जितनी प्रशंसा की जाए वह कम है ।