Connect with us

Uncategorized

श्री झंडे जी मेला 2024: आस्था चढ़ने लगी परवान, दरबार साहिब में गिलाफ सिलाई आज से

श्री गुरु राम राय दरबार साहिब में झंडेजी के आरोहण का समय ज्यूं-ज्यूं निकट आ रहा है वैसे ही भक्तों की आस्था भी परवान चढ़ने लगी है।

30 मार्च को होने वाले इस भव्य आरोहण के लिए दरबार में 86 फीट ऊंचे व 30 इंच मोटाई वाले झंडेजी के लिए आज से गिलाफ की सिलाई शुरू हो जाएगी। वहीं इस पल का साक्षी बनने के लिए दरबार साहिब में संगत पहुंच रही है। दरबार साहिब को लाइटों व फूलों से सजाया जा रहा है। इस बार दरबार साहिब परिसर में 42 सीसीटीवी से निगरानी रहेगी। परिसर में दुकाने लगनी शुरू हो चुकी हैं।

17 अप्रैल रामनवमी तक चलेगा मेला
होली के पांचवें दिन यानी चैत्र मास के कृष्ण पंचमी को दरबार साहिब में झंडेजी के आरोहण के साथ ऐतिहासिक झंडा मेला शुरू हो जाता है। इस बार 17 अप्रैल रामनवमी तक मेला चलेगा। मंगलवार को भी उत्तराखंड पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश से संगत के पहुंचने का सिलसिला जारी रहा। इस दौरान दरबार साहिब के सज्जादानशीन श्रीमहंत देवेन्द्र दास महाराज ने संगत को दर्शन दिए।

साथ ही श्री झंडे जी मेला आयोजन समिति को जरूरी दिशा निर्देश भी दिए। समिति के सह-व्यवस्थापक विजय गुलाटी ने बताया कि समिति की ओर से सभी तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। दरबार साहिब परिसर में दुकानें भी सज चुकी हैं। शुक्रवार को दरबार साहिब के सज्जादानशीन श्रीमहंत देवेन्द्र दास महाराज से पगड़ी प्रसाद तवीज व आशीर्वाद लेकर पूर्वी संगत की विदाई होगी। मेले के लिए झूले को कारीगर तैयार कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें -  सीएम धामी ने जोशीमठ में रोड शो कर भाजपा प्रत्याशी अनिल बलूनी के लिए मांगा समर्थन

मेले की तैयारियों को लेकर उन्होंने बताया कि इस बार मेला आयोजन स्थल पर 42 सीसीटीवी निगरानी के लिए संचालित किए गए हैं। मेला स्थल पर 25 फायर एक्सटिंग्विशर लगाए गए हैं। समिति की ओर से 35 सुरक्षा गार्ड व 500 संगत स्वयंसेवक मेला व्यवस्था, अनुशासन व्यवस्था व संचालन कार्यों के लिए सेवादार रहेंगे। श्रीमहंत इन्दिरेश अस्पताल के चिकित्सक व नर्सिंग स्टाफ की टीम मेला अस्पताल में उपलब्ध रहेगी। अस्पताल की ओर से निश्शुल्क दवा उपलब्ध कराई जाएगी। मेला अस्पताल के सहयोग के लिए दो एम्बुलेंस उपलब्ध रहेंगी।

गुरुद्वारा अमृतसर की तर्ज पर दरबार साहिब में भक्ति सरोवर तैयार
इस बार झंडेजी के आरोहण के दौरान संगत को दरबार परिसर स्थित भक्ति सरोवर अलग रूप में नजर आएगा। बीते एक वर्ष से इस पर कार्य चल रहा है। श्री झंडे जी मेला आयोजन समिति के विशेष कार्यधिकारी राजेंद्र ध्यानी ने बताया कि गुरुद्वारा अमृतसर की तर्ज पर यहां के भक्ति सरोवर को तैयार किया जा रहा है।

जिसमें वर्षभर शुद्ध पानी रहेगा। पहली बार झंडेजी मेले में शामिल होने वाली संगत को यह अद्भुत नजारा देखने को मिलेगा। रात को रंग-विरंगी लाइटों से यह और भी आकर्षक लगेगा। इसे अंतिम रूप देने का कार्य जोरों पर है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad

More in Uncategorized

Trending News