Connect with us

Uncategorized

पकड़ा गया तीन महिलाओं को मारने वाला भीमताल का आदमखोर, जांच में जुटी टीम; होगा डीएनए टेस्ट

भीमताल क्षेत्र में इसी माह तीन महिलाओं को मार डालने वाले नरभक्षी बाघ या गुलदार को रेस्क्यू किए जाने की कड़ी में वन विभाग को सफलता हाथ लगी है। सोमवार मध्य रात्रि के बाद विभाग के विशेषज्ञों और कर्मचारियों की टीम ने एक बाघिन को ट्रेंकुलाइज कर लिया है। जिसकी उम्र करीब डेढ़ वर्ष बताई जा रही है।

हालांकि पकड़ी गई बाघिन नरभक्षी है या नहीं यह डीएनए रिपोर्ट से ही स्पष्ट हो पाएगा। विभाग के विशेषज्ञों ने बाघिन के सैंपल ले लिए हैं। जिनको जांच के लिए भारतीय वन्यजीव संस्थान देहरादून भेजा जाएगा। फिलहाल पकड़ी गई बाघिन को रानीबाग रेस्क्यू सेंटर भेजा गया है। उच्च अधिकारियों के निर्देशों के बाद बाघिन को ढेला रेस्क्यू सेंटर रामनगर भेजा जा सकता है।

नरभक्षी ने महिलाओं को बनाया था शिकार
बता दें कि भीमताल के अलचौना, मलुवाताल, पिनरो क्षेत्र में नरभक्षी ने दो महिलाओं और एक युवती को निवाला बना लिया था। दो महिलाओं से लिए गए सैंपलों से वन विभाग को बाघ के हमले की पुष्टि हुई थी। रविवार को जंगलियागांव क्षेत्र में वन्यजीव ने एक बैल को निवाला बना लिया था। इसके बाद से ही वन विभाग ने क्षेत्र में रेड अलर्ट जारी कर लोगों को विशेष तौर पर सतर्क रहने के निर्देश दिए थे।


हाई कोर्ट ने दिए थे निर्देश
साथ ही हाई कोर्ट की ओर से नियुक्त किए गए वाइल्डलाइफ विशेषज्ञ डा. पराग निगम समेत तीन वन्यजीव चिकित्सकों के साथ टीम नरभक्षी को पकड़ने में जुटी हुई थी। सोमवार रात जंगलियागांव क्षेत्र में हमले में मारे गए बैल के समीप टीम को हलचल दिखाई दी। इस दौरान टीम ने ट्रेंकुलाइज गन से बाघिन को बेहोश कर दिया। डा. हिमांशु पांगती ने बताया कि पकड़ी गई बाघिन की उम्र करीब डेढ़ वर्ष है। जिसे रानीबाग रेस्क्यू सेंटर ले जाया गया है।

Ad Ad Ad Ad Ad Ad
यह भी पढ़ें -  रामनगर पुलिस ने अभियुक्त को 6 घंटे के अंदर कर लिया गिरफ्तार

More in Uncategorized

Trending News